ताज़ा खबर:-

दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के ट्राॅसपोर्ट विभाग के अफसरों की सांठगांठ से वाहनों में लगे CNG गैस सिलेण्डर

दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के ट्राॅसपोर्ट विभाग के अफसरों की सांठगांठ से वाहनों में लगे CNG गैस सिलेण्डर

CNG Gas Cylinder engaged in Invalid vehicles under Transport Department officials.

लखनऊ। दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के ट्राॅसपोर्ट विभाग में तैनात अफसरों की सांठगांठ से उन वाहनों में सीएनजी गैस सिलेण्डर लगा दिये गये है जिसकी आई कैट टेस्टिंग कम्पनी से अनुमति ही नही दी गई है। जिसके चलते इन राज्यों की सड़को पर दौड़ रहे सीएनजी गैस वाहनों के सिलेण्डर फटने से कभी भी कोई बड़ा धमाका हो सकता है।

हो सकता है बड़ा हादसा- गौरतलब है कि देश की राजधानी दिल्ली के पश्चिमी इलाके में दो दिन पहले हुये एक वाहन में हुआ विस्फोट इसी का नतीजा है। बताया जाता है कि यह हादसा इसलिये हुआ क्योंकि दिल्ली के मायापुरी इलाके में जो पुराने सीएनजी सिलेण्डर गोदाम में डंप किये गये थे उन सिलेण्डरों को फिर से पेन्ट करके उनमे नये नम्बर डाल कर उन्हें रिसाइकल किया जा रहा है, और इन्हीं सीएनजी सिलेण्डरों को काॅमर्शियल वाहनों तक में लगा दिया गया है। इसको लेकर इन राज्यों की सड़को पर दौड़ रहे सीएनजी वाहनों में सिलेण्डर फटने से किसी भी समय कोई बड़ा हदसा हो सकता है।

हाईकोर्ट ने दिए जाँच के आदेश-यह जानकारी देते हुये आम आदमी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभात कुमार ने बताया कि इन राज्यों के ट्राॅसपोर्ट विभाग में तैनात अफसरों ने अपनी काली कमाई के चलते इस मामले में कोई कार्यवाही इसलिए नहीं की, क्योंकि वह इस बड़े घोटाले में खुद लिप्त है। इसी के चलते चंड़ीगढ़ हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई थी जिस पर इस मामले की सुनवाई करते हुये इस सम्बन्ध में हाईकोर्ट ने एक जाँच कमेटी का गठन कर इसकी जाँच के आदेश जारी कर दिये हैं। अब यह कमेटी इस मामले की जाँच कर कोर्ट को जल्द ही अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

एनजीटी को दरवाजा खटखटायेगी सेना- उन्होंने बताया कि दिल्ली के मायापुरी इलाके में डंप पड़े सीएनजी सिलेण्डरों को दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के वाहनों में बड़े पैमाने पर लगा कर खपत की गई है। प्रभात कुमार की मानें तो यह सीएनजी सिलेण्डर हरियाणा राज्य के वाहनों में सबसे अधिक लगाये गये है। उन्होंने बताया कि पर्यावरण का ध्यान रखते हुये सुप्रीम कोर्ट ने सीएनजी सिलेण्डरों को वाहनों में लगाये जाने के आदेश पूर्व में दिये थे। लेकिन सीएनजी सिलेण्डर लगाने वाली एक कम्पनी ने आदालत के आदेश को ठेगा दिखाते हुये अफसरो से सांठगाठं कर अपने मन मुताबिक वाहनों में सीएनजी सिलेण्डर लगाना शुरू कर दिया है। इसको लेकर आम आदमी सेना एनजीटी का भी दरवाजा खटखटायेगी। यही नहीं आम आदमी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रभात कुमार का कहना है कि उनके पास इस मामले के पुख्ता सुबूत हैं। जिसका खुलासा वह जल्द ही मीडिया के सामने करेंगें।

 

leave a comment

Create Account



Log In Your Account