सीएम दिनेश शर्मा बोले- मुगल हमारे पूर्वज नहीं, लुटेरे थे…


उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा का मानना है कि मुगलों की भारतीय इतिहास में कोई भूमिका नहीं है, उन्होंने केवल भारत देश को लूटा है। लखनऊ में आज तक सफाईगिरी अवार्ड में एक सवाल का जवाब देते हुए दिनेश शर्मा ने मुगलों को लूटेरा बताकर नया विवाद खड़ा कर दिया। यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा, ‘मुगल हमारे पूर्वज नहीं थे, वो असलियत में लुटेरे थे। उन्होंने देश को लूटा है। अब ये ही इतिहास लिखा जाएगा।’ साथ ही उन्होंने कहा, ‘उत्तर प्रदेश में हर एक धर्म को समान सम्मान मिलेगा, लेकिन हम लोग पाकिस्तानी-तालिबानी संस्कृति को स्वीकार नहीं करेंगे।’ दिनेश शर्मा ने कहा यूपी सरकार स्कूलों में नया सेलेब्स लाने के लिए काम कर रही है, यह आधुनिक इतिहास पर आधारित होगा। उन्होंने कहा कि 70 फीसदी NCERT और 30 फीसदी प्रदेश के हिसाब से सेलेब्स बनाया जाएगा।

साथ ही शर्मा ने कहा, ‘आधुनिकता के परिवेश में हम लोग हमारे गौरवशाली इतिहास को भूलने लगे हैं। हमें नए समाज का निर्माण करना होगा। ऐसा नहीं है कि हम लोग मुगलों को स्कूली पाठ्यक्रम से हटाएंगे। लेकिन जैसा उन्होंने काम किया, वैसा ही लिखा जाएगा। अगर किसी मुगल शासक ने अच्छा काम किया है तो अच्छा लिखा जाएगा और किसी ने बुरा किया है तो बुरा लिखा जाएगा। ताजमहल हमारी संस्कृति का हिस्सा है, लेकिन ताज बनाने वाले के हाथ काट देना हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं हो सकता। यह पाकिस्तानी-तालिबानी संस्कृति है।’

दिनेश शर्मा ने मुगल शासक बहादुरशाह जफर की तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘जब क्रांतिकारी मंगल पांडे ने आजादी की आवाज उठाई तो बहादुर शाह जफर ने उनका समर्थन किया। इसके साथ ही वे गोहत्या के खिलाफ थे। इसलिए हम उनकी तारीफ करते हैं। बहादुरशाह जफर अच्छे शासक थे, इसिलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी म्यांमार में उनकी मजार पर गए थे।’

Please Write Your Comments Below

Previous ओप्पो का बजट फोन A71 भारत में हुआ लॉन्च, जानिए फीचर्स...
Next निकाह के वक्त तय होगा तीन तलाक को ना करने का फैसला...