भारतीय सेना ने 7 PAK सैनिकों और 6 फिदायीन आतंकियों को मार गिराया…


सेना दिवस के मौके पर भारतीय सेना ने पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया है. जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना ने पाकिस्तान द्वारा सीजफायर उल्लंघन किए जाने पर उसके 7 जवानों को मार गिराया है. भारतीय सेना ने पाकिस्तान द्वारा बिना उकसावे के की फायरिंग के बाद यह कार्रवाई की है. जम्मू कश्मीर में एलओसी से सटे पाक अधिकृत कश्मीर के कोटली सेक्टर में भारतीय सेना पाकिस्तानी सेना द्वारा की जा रही फायरिंग का जवाब दिया और उसके सात सैनिकों को मौत के घाट उतार दिया.

शुरुआत में यहां पाकिस्तान के चार जवानों के मारे जाने की खबर थी जिसमें तीन जवान घायल बताए जा रहे थे. लेकिन थोड़ी देर बाद खबर आई कि इस कार्रवाई में तीन अन्य जवान भी मारे गए हैं. हालांकि अभी चार के मारे जाने की की पुष्टि हुई है. पाकिस्तान की सेना ने चार सैनिकों के मारे जाने की बात कही है.

आपको बता दें कि भारतीय सेना आज अपना 70वां आर्मी दिवस मना रही है.आर्मी डे पर नई दिल्ली में परेड का आयोजन किया गया. सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने इस दौरान परेड की सलामी ली. परेड के बाद आर्मी चीफ ने कड़े शब्दों में पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि हम पाक के भेजे आतंकी खत्म करते रहेंगे और उसे मुंहतोड़ जवाब देते रहेंगे. इसके बाद सेना के 15 वीर जवानों को मेडल दिए गए, जिनमें से पांच मेडल शहीद जवानों के परिवार को सौंपे गए. इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी सेना को बधाई दी.

पाकिस्तान को लेकर आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने कही ये बड़ी बातें

पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देते रहेंगे.
पाकिस्तान के भेजे आतंकी खत्म करते रहेंगे.
पाकिस्तान सीजफायर का उल्लंघन करता रहता है.
पाकिस्तान राष्ट्रीय एकता पर प्रहार कर रहा है.
पाकिस्तान की सेना घुसपैठियों की मदद करती है.
हमें मजबूर किया तो हम और मजबूत कार्रवाई करेंगे.
सेना हर चुनौती को तैयार, डटकर करेंगे मुकाबला.
दुश्मनों के खिलाफ हम कड़ी कार्रवाई करते रहेंगे.
सेना को सफल बनाने के लिए एकजुट होना होगा.
कश्मीर में शांति बहाली की कोशिश करते रहेंगे.
हमें मिलकर सफलता के लिए प्रयास करना होगा.

उरी में घुसपैठ की कोशिश कर रहे 6 आतंकी ढेर
जम्मू-कश्मीर के उरी में भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकी घुसपैठ की बड़ी कोशिश को नाकाम करते हुए 6 फिदायीन आतंकियों को ढेर कर दिया है. मारे गए आतंकी जैश ए मोहम्मद के बताए जा रहे हैं और उस ऑपरेशन को भारतीय सेना, सीआरपीएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस की साझा टीम ने अंजाम दिया. आतंकियों के खिलाफ भारतीय सुरक्षबलों की यह कार्रवाई उरी के दुलंजा में हुई. यहां अंधेरे का फायदा उठाकर जैश के आतंकियों ने घुसपैठ की कोशिश की. जिसका पता चलते ही भारतीय सुरक्षा बलों ने इन आतंकियों को घेर लिया. खुद को फंसा देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी.

जवाब में जब भारतीय सुरक्षाबलों ने फायरिंग की तो तीन आंतकियों को मौके पर ही मार गिराया गया. जबकि एक आतंकी भागने में कामयाब रहा. इसके बाद भारतीय सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेर लिया और चौथे आतंकी को भी मार गिराया. चार आतंकियों को मार गिराने के भी सुरक्षाबलों को अंदेशा था यहां और आतंकी छिपे हो सकते है. इलाके को घेर कर सर्च ऑपरेशन जारी था. चारों आतंकियों के ढेर करने के बाद दो और आतंकी को यहां मार गिराया गया है.

Previous राहुल गाँधी: चीन में काम को लगते हैं 2 दिन, मोदी लेते हैं एक साल....
Next कूड़ा फेंकने गई मासूम के साथ दरिंदगी के बाद हत्या: पानीपत