120 वर्षीय बुजुर्ग माँ को कलयुगी बेटे ने सब कुछ छीनकर घर से बहार फेंका

सबकुछ ले लिया, फिर भी मुझे कोई अफसोस नहीं है लेकिन उसने मेरे ऊपर हाथ कैसे उठाया।

Kaliyugi Son snatched everything and threw the 120-year-old elderly mother outside from the house.

भोपाल।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के बासौदा निवासी 120 वर्षीय फूल बाई अपने सबसे छोटे बेटे लल्लू जोगी के साथ मंगलवार को जनसुनवाई में पहुंची। बुजुर्ग मां ने जब आईजी भोपाल को देखा तो उनका दर्द छलक गया उन्होंने अपने दोनों हाथ जोड़ते हुए रट हुए कहा कि- साब मेरे 4 बड़े बेटों को जेल भेज दो। उसने घर छीन लिया। पेंशन ले लेता है और मुझ पर हाथ भी उठाता है। सीढ़ियों से धक्का दे दिया, जिससे कमर की हड्डी टूट गई। मैं तो चल भी नहीं पा रही, जिसे मैंने दुनिया के सारे कष्ट सहकर पाला, जिसकी नन्ही अंगुलियों को थाम कर चलना सिखाया। आज उसने ही मुझे मोहताज कर दिया।

अभी ये बुजुर्ग माँ अभी अपने सबसे छोटे बेटे के साथ वन-ट्री हिल्स बैरागढ़ में रह रही हैं, यही बेटा उनको लेकर आईजी ऑफिस पहुंचा था। आवेदन में अपनी उम्र 120 साल लिखाने वाली फूल बाई ने आईजी को बताया कि साहब, मेरे पांच बेटे और दो बेटियां हैं। सबसे बड़ी बेटी 80 साल और सबसे बड़ा बेटा 65 साल का है। मेरे चारों बड़े बेटों ने मेरा मकान छीनकर कब्जा कर लिया है। सबसे बड़े बेटे सोडू और उसकी पत्नी ने मारपीट की। मेरे बैंक खाते से रुपए भी निकलवा लिए। उन्होंने मकान ले लिया। पैसे ले लिए। घर से निकाल दिया। उनके पति नगर पालिका से रिटायर्ड थे। उनकी मौत के बाद पेंशन ही उनके जीवन का सहारा है। सबकुछ ले लिया, फिर भी मुझे कोई अफसोस नहीं है लेकिन उसने मेरे ऊपर हाथ कैसे उठाया। छोटा बेटा हाथों से दिव्यांग है। उस पर पांच बच्चों के अलावा अब मेरी भी जिम्मेदारी है।

 

Please Write Your Comments Below

Previous कार्ड स्वाइप के 2% का एक्स्ट्रा चार्ज देना आपकी मर्जी
Next सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी की हत्या कबूली, इधर मुख्तार की नींद उड़ गयी