अर्शिन मसजोदी की कहानी दर्द और हौसले की जुबानी

अर्शिन मसजोदी की जो फेस आफ ब्यूटी इंटरनेशनल कांटेस्ट-2018 में कनाडा का प्रतिनिधित्व करने भारत आई है ।

The story of Arshin Masjodi, pain and freshness

    

ये कहानी उस सुंदरी की है जो दर्द और हौसले से भरी है । जिसने जीवन की हर परिस्थितियों से लड़ कर कामयाबी की बुलंदियों को छुआ है । जिंदगी ने उसे कदम कदम पर हराने की कोशिश की लेकिन उसके हौसले ने उसे हाराने नहीं दिया । आज उसके इसी हौसले ने पूरी दुनिया में अपनी सुंदरता की पहचान बना ली है। हम बात कर रहे है अर्शिन मसजोदी की जो फेस आफ ब्यूटी इंटरनेशनल कांटेस्ट-2018 में कनाडा का प्रतिनिधित्व करने भारत आई है।

अर्शिन मसजोदी के यहाँ तक पहुंचने के सफर में उनके जीवन की दर्दनाक दास्तां के साथ उनका जज्बा भी है। उनकी जिद ने कभी उन्हें हारने नहीं दिया। आपको बता दे की इस सुंदरी के एक हाथ की उँगलियाँ कटी हुई है । इतना ही नहीं एक हादसे में उसका आधे से ज्यादा शरीर आग से झुलस गया था। लेकिन इन सब के बावजूद उसने हर नहीं मानी और अपनी तकदीर को नए सांचे में रखकर उसने ख्‍ुाद को बड़ी खूबसूरती से तराशा। बहादुरगढ़ पहुंची 42 देशों की सुंदरियों के बीच मिस कनाडा अर्शिन मसजोदी ने अलग पहचान बनाई।

अर्शिन ने अतीत को बयां करते हुए कहा कि बचपन में मिक्सचर में उसका हाथ चला गया था जिससे दायें हाथ की पांचों अंगुलियां कट गईं थी । और बताया की जब वह 15 साल की थी, तब एक दिन घर में अकेली थी। घर में अचानक धमाका हुआ और आग लग गई। जिस हादसे में वह झुलस गई थी । चेहरा काफी हद तक बच गया था। इलाज भी बड़ी मुश्किल से हुआ। अर्शिन ने बताया, इसके बाद तो वह कई वर्षों तक घर नहीं निकल पाई। मगर उसने हौसला नहीं छोड़ा । आज वो उसी हाथ को मिलाकर लोगों का अभिवादन करती, जिसकी अंगुलियां कट गई थीं। उसने बताया की इस ब्यूटी कांस्टेट में आने की वजह जिंदगी की मुश्किलों को मात देना था , उन्हें हराने के लिए ब्यूटी कांस्टेट में आई है। उसके हौसले पर कई डॉक्यूमेंट्री भी बनी। कनाडा के ब्यूटी कांटेस्ट में नेशनल विजेता बनी और अब अंतरराष्ट्रीय खिताब जीतने की उम्मीद से भारत आई हैं। रूबरू प्रमोटिंग ग्रुप के संदीप कुमार बताते हैं कि यही हौसला देख अर्शिन को इस कांटेस्ट के लिए चुना गया।

दिल्ली में 16 सितंबर को फेस आफ ब्यूटी इंटरनेशनल-2018 का ग्रेंड फिनाले होगा। यह घेवरा के सिटी पार्क रिसार्ट में होगा। इससे पहले भारत भ्रमण के तहत इन कांटेस्ट में भाग लेने वाली सभी सुंदरियां सोमवार को बहादुरगढ़ के वैश्य कालेज में महिला स्वास्थ्य और स्वच्छता से जुड़े कार्यक्रम में पहुंची। जहां उनका स्वागत पारंपरिक अंदाज में किया गया । इस दौरान सभी सुंदरियों ने हरियाणवी गीतों खूब डांस किया।

Please Write Your Comments Below

Previous पकिस्तान के इमरान बनने चले थे मोदी, और खा गए मुँह की
Next आगरा : प्रेसवार्ता कर रहे देवकीनंदन ठाकुर आए पुलिस की गिरफ्त में