सरेआम बाइक सवार बदमाशों ने स्कॉर्पियो रोककर गोली मारी

स्कॉर्पियो चालक सहित युवक बाल -बाल बचा

Bike Rider openly shot at Scorpio.

अपराध संवाददाता, लखनऊ।

राजधानी के काकोरी थाना इलाके के दुबग्गा चौकी स्थित पॉवर हाउस चौराहे के मन्सूरनगर के पास रविवार दोपहर भिटौली के एल्डिको सिटी से स्कॉर्पियो से दुबग्गा होकर बालागंज स्थित राम नगर कॉलोनी जा रहें की स्कॉर्पियो कार को तीन बाइक पर सवार छ: बदमाशों ने हाथ का इशारा देखकर सड़क पर रोक लिया।स्कॉर्पियो कार जैसे ही रुकी बदमाशों ने कार पर ताबड़तोड़ छ:गोलियां चला दिया।जिसमें एक गोली कार चालक के पीठ से छुती हुई निकल गई। बदमाशों ने दूसरी गोली कार में पीछे सीट पर बैठे युवक को मारी।युवक कार से फाँदकर भाग निकला जिससे वह बाल -बाल बच गया।गोलीयों की तड़ तड़ाहट को देखते हुए आसपास के लोगों में अफरा तफरी का माहौल हो गया।लोगों की भीड़ भाड़ देख आरोपी तमंचे लहराते हुए मौके से भाग निकले।लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दिया।मौके पर पहुँची पुलिस ने जांच पड़ताल कर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

मोहम्मद इमरान  पुत्र मोहम्मद युसूफ निवासी ठाकुरगंज के बालागंज स्थित रामनगर कॉलोनी के मुताबिक वह रविवार अपनी गाड़ी स्कॉर्पियो से बिठौली के  एल्डिको सिटी कॉलोनी में इमरान के साथी ने प्लाट दिखाने के लिए बुलाया था प्लाट देखकर इमरान अपनी कार स्कॉर्पियो ड्राइवर धीरज सिंह निवासी सीतापुर के साथ घर वापस दुबग्गा होते हुए बालागंज जा रहे थे की पावर हाउस चौराहे के पास मंसूरनगर के पास तीन बाइक सवार बदमाशों ने स्कॉर्पियो को ओवरटेक कर  हाथ का इशारा देकर  स्कॉर्पियो चालक से रुकने को कहा जैसे ही स्कॉर्पियो  कार रुकी हेलमेट लगाए हुए बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां चला दी जिसमें स्कॉर्पियो कार चालक धीरज सिंह की पीठ से छूती हुई एक गोली निकल गई दूसरी गोली पीछे बैठे मोहम्मद इमरान पर बदमाशों ने चला दी इमरान कार में झुककर कार का मेन गेट खोल कर भाग निकले  बदमाशों ने ताबड़तोड़ चार राउंड फायर किया।जिसमें एक गोली कार के अगले हिस्से के शीशे में जा धंसी तो दूसरी गोली कार की पिछली दरवाजे में लगी। दो गोलियां कार की छत को छूते हुए निकल गई। गोलियों की तड़ताड़हट से आसपास के लोग दुबक गए लोगों की भीड़ भाड़ देख कर बदमाश तमंचे लहराते हुए मौके से भाग निकले।

प्लाट के पैसों में लेनदेन का मामला तो नहीं-

मोहम्मद इमरान लिफ्ट बनाने का कार्य करने के साथ साथ वह जमीन और प्लाटों की खरीद-फरोख्त का कारोबार भी करते है।वहीं पुलिस इस घटना को संदिग्ध मान रही है। मोहम्मद इमरान का आरोप हैं कि हमलावर में शामिल प्रतापगढ़ निवासी लाल राम व भाईराम होने की बात पुलिस को बताई हैं।पुलिस की पूछताछ में इमरान ने बताया हैं कि एक वर्ष पहले लालराम व भाईराम दोनों से एक जमीन के प्लाट में  50 हज़ार रुपए के लिए इमरान में विवाद चल रहा था।जिसको लेकर दोनों पक्षों में सुलह समझौता भी होने की बात इमरान ने बताई हैं।वहीं इस मामले में अतिरिक्त प्रभारी इंस्पेक्टर काकोरी अखिलेश यादव ने बताया इमरान की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश की जा रही है।

reported by- Kushmesh Sarokaar 

Previous माल इलाके मे चोरों का कहर जारी चोरों को पुलिस पकडऩे मे बिफल
Next तो क्या मोदी की हवा के ख़त्म होने की उलटी गिनती शुरू हो गयी ?