Posts in category

फेसबुक अड्डा


View Source- Anil Verma क्षमा के साथ कुछ ऐसे शब्दों को edit करके पोस्ट करते हुए — #KathuaRapeCase  से पूरी दुनिया हिल गयी थी क्या आप तक इस खबर के बारे में जानकारी है ? बेसलान” ( रुस ) के एक स्कुल में, कुछ जेहादी आतंकवादी अचानक घुस गए और घुसते ही पुरुषों का मार दिया, …

View Source:-अलोक पाण्डेय रसूख की बदौलत राजनीति करने वाले उन्नाव के दबंग विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के कारनामों की फेहरिस्त सामने हैं। चुनावी हलफनामों में गलत जानकारी देने के जुर्म में कुलदीप पर जल्द ही एक और मुकदमा दर्ज होने की संभावना है। तीन चुनावों में खुद को कानपुर विश्वविद्यालय से स्नातक बताने वाले कुलदीप …

View Source :- RavishKaPage  @RavishKaPage जस्टिस लोया की मौत पर कैरवान की निकिता सक्सेना की शानदार रिपोर्टिंग.. जस्टिस लोया की मौत के मामले में कैरवान की निकिता सक्सेना ने उस रवि भवन के 17 कर्मचारियों से बात की है जो उस वक्त वहां तैनात थे। निकिता ने लिखा है कि किसी को भी उस रात किसी …

View Source:- Sotry Page  Kamlesh Singh   अगर किसी को भी कोई भी हथियार रखने की छूट हो, दुकानों में खिलौनों की तरह हथियार बिकने लगें तो दंगे और उपद्रव ख़ुद-बख़ुद बहुत कम हो जाएँगे। जबसे अंग्रेज़ों ने हथियार रखने पर पाबंदी लगायी, तब से सांप्रदायिक दंगे बहुत बढ़ गए। अहिंसा की गारंटी है हिंसा/ प्रतिहिंसा की …

Source:- बनारस दिल से वाराणसी: यूपी के वाराणसी में एक पुलिस स्टेशन ऐसा है, जहां ऑफिसर की कुर्सी पर बाबा काल भैरव विराजते हैं। अफसर बगल में कुर्सी लगाकर बैठते हैं। सालों से इस स्टेशन के निरीक्षण के लिए कोई IAS, IPS नहीं आया। आपको कोतवाल बाबा काल भैरव के बारे में बताने जा रहा है। …

‘‘मैं जब कोलकाता जेल में थी, तो हमारे रहने का स्थान वे ही कोठरियाँ थीं, जिनमें अन्य महिला राजनैतिक अपराधी रही थी अथवा रहती थी। हमें रात के 10 बजे कोठरियों में बंद कर दिया गया और चटाई, कंबल आदि का नाम भी नहीं सुनाई पड़ा। मन में चिंता होती थी कि क्या इसी प्रकार …

इंसानियत जरूरी या रोटी ? केस.1 – दिल्ली के जहांगीरपुरी में, एक 22 वर्षीय गर्भवती महिला की उसके पति ने हत्या कर दी थी क्योंकि वह पूरी तरह गोल चपाती नहीं कर सकी। केस.2 – 12 वर्षीय लड़की को लाहौर के मेयो अस्पताल के बाहर मृत पाया गया ,लोकल पुलिस के बयान से बताया गया …

Sunil Maurya’s FB Wall आज बहुत मन में उथल पुथल है . न जाने क्यूँ बस ये सोचकर कि हमारे राजनेता और फ़िल्मकार हमारे समाज को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं ? एक तरफ जहाँ राजनेता अपने चरित्र का पतन करके हमारे देश में गृहयुद्ध जैसा माहौल बना रहे हैं वही दूसरी तरफ …

मृत्युंजय दीक्षित फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली की फिल्म पदमावत के खिलाफ जिस प्रकार से हिंसक प्रदर्शन हुए वह कहीं देश विरोधी एक और साजिश तो नहीं है? जिस समय पीएम नरेंद्र मोदी विश्व आर्थिक मंच के सम्मेलन में भारत की शानदार तस्वीर पेश कर रहे थे और वह कह रहे थे कि आइये हम …

Source :Viwe Source विवेक मिश्रा – हजरत मोहम्मद ने फरमाया है कि ख्याल रखिए कि आपकी छत आपके पड़ोसी की छत से ऊंची न हो। समाज में बराबरी कायम रहे इसलिए उन्होंने ऐसा फरमाया। हमारी ऊंची छत किसी दूसरे के छत को नीचा करती है। हमारे भीतर गुमान और अहंकार भरती है। बहुत खूबसूरत बात …