ताज़ा खबर:-

पायलट नहीं दिखाते सूझबूझ तो चली जाती सैकड़ों यात्रियों की जान, जानिए रिपोर्ट…

पायलट नहीं दिखाते सूझबूझ तो चली जाती सैकड़ों यात्रियों की जान, जानिए रिपोर्ट…

पायलट नहीं दिखाते सूझबूझ तो चली जाती सैकड़ों यात्रियों की जान, जानिए रिपोर्ट…

मुंबई के ऊपर उड़ रहीं एयर इंडिया और विस्तारा एयरलाइंस की फ्लाइट कुछ सेकंड के अंतर से हवा में टकराने से बच गईं. बताया जा रहा है कि यह घटना 7 फरवरी की है. विस्तारा एयरलाइंस की एक फ्लाइट इतनी कम ऊंचाई पर आ गई थी कि वो आसमान में उसी ऊंचाई पर मौजूद एयर इंडिया की फ्लाइट के ठीक सामने आ गई. हालांकि, पायलट की सूझबूझ और तुरंत एक्शन के चलते बड़ा हादसा होने से बच गया.

29,000 हजार की जगह 27,100 पर उड़ाया प्लेन
टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, एयर इंडिया एयरबस A-319 की फ्लाइट नंबर AI- 631 मुंबई से भोपाल की तरफ आते हुए 27 हजार फीट की ऊंचाई पर उड़ रही थी. दूसरी ओर विस्तारा की फ्लाइट UK-997 दिल्ली से पुणे की ओर जा रही थी. विस्तारा के पायलेट को एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) ने प्लेन 29,000 की हाईट पर रखने के निर्देश दिए गए थे, लेकिन वो फ्लाइट को 27,100 फीट की ऊंचाई पर ही ले गए.

पायलट्स की तत्परता से बची जान
कुछ ही देर में एयर इंडिया और विस्तारा के प्लेन एक-दूसरे की समान ऊंचाई पर आ गए. दोनों के बीच महज 100 फीट का फासला रहा होगा जब दोनों प्लेन के कॉकपिट में अलर्ट बजने लगा. पायलेट ने तुरंत फ्लाट्स को एक-दूसरे से अलग दिशा में मोड़ा. कुछ ही सेकंड में लिए गए इस निर्णय से प्लेन में मौजूद सैकड़ों यात्रियों की जान बच गईं.

विस्तारा और एयर इंडिया की ओर से कही गई ये बात
वहीं विस्तारा की ओर से घटना के बारे में कहा गया कि, उनके पायलेट ने गलती से प्लेन को 27,100 फीट की ऊंचाई पर नहीं रखा था, बल्कि उसने एयर ट्रैफिक कंट्रोल द्वारा निर्देश के बाद ऐसा किया था. उन्होंने कहा, हमारे यात्रियों और स्टाफ की सुरक्षा सबसे पहले है. हम सारे नियम और रेग्युलेशन्स के हिसाब से ही चलते हैं.

दूसरी ओर एयर इंडिया की ओर से कहा गया कि, ये वाकई चिंताजनक घटना है. लेकिन दोनों फ्लाइट को टकराने से बचाने के लिए हमारे स्टाफ ने तत्परता दिखाई, जिससे दुर्घटना होने से बच गई. विस्तारा एयरलाइंस और एटीसी के बीच कुछ कन्फ्यूजन होने से ऐसा हुआ होगा.

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने भी इस घटना को गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दे दिए हैं. जांच में पता लगाया जाएगा कि आखिर किस चूक के कारण यह घटना हुई है, जिसके बाद उपयुक्त कार्रवाई की जाएगी

leave a comment

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: