ताज़ा खबर:-

यूपी के किसानों के लिए CM योगी का बड़ा फैसला, 1 लाख रुपए तक का कर्ज माफ

यूपी के किसानों के लिए CM योगी का बड़ा फैसला, 1 लाख रुपए तक का कर्ज माफ

यूपी के किसानों के लिए CM योगी का बड़ा फैसला, 1 लाख रुपए तक का कर्ज माफ

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मंगलवार को बड़ा तोहफा दिया. योगी कैबिनेट ने अपनी पहली बैठक में किसानों की ऋण माफी का फैसला किया. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक योगी सरकार ने किसानों का 1 लाख रुपए तक का कर्ज माफ करने की घोषणा की है. समझा जाता है कि योगी सरकार के इस फैसले से करीब 2 करोड़ किसानों को फायदा होगा. सरकार किसानों का 36,000 करोड़ रुपए का कर्ज माफ करेगी.

गौरतलब है कि यूपी में 92 प्रतिशत किसान छोटे और सीमांत के दायरे में हैं. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक 62,000 करोड़ रुपए का कर्ज किसान लौटा नहीं पाए हैं.

किसानों पर 62 हजार करोड़ रुपए का कर्ज

वित्त विभाग के एक प्रवक्ता के अनुसार भाजपा के लोक कल्याण संकल्प पत्र-2017 में ऐसी अनेक प्रतिबद्धताएं हैं जिन्हें पूरा करने के लिये सरकार को काफी वित्तीय बोझ उठाना पड़ेगा. लिहाजा सरकार के पास अपने चुनावी वादों को अमली जामा पहनाने में आगे भी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है. प्रदेश में दो करोड़ से ज्यादा लघु तथा सीमांत किसान हैं, जिन पर करीब 62 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है.

राज्य में दो करोड़ 30 लाख किसान 

 प्रवक्ता के मुताबिक किसानों की कर्जमाफी के फलस्वरूप माफ की गई धनराशि का भुगतान राज्य सरकार द्वारा बैंकों को किया जाएगा. इसके लिए अतिरिक्त कर्ज की आवश्यकता के मद्देनजर राज्य सरकार केन्द्र से अतिरिक्त ऋण के लिये किये जाने वाले बन्ध पत्रों की धनराशि तथा उस पर लगने वाले ब्याज को एफआरबीएम एक्ट के अन्तर्गत निर्धारित कर्ज सीमा से बाहर रखने का अनुरोध करेगी. प्रदेश में इस वक्त लगभग दो करोड़ 30 लाख किसान हैं. प्रदेश में लघु एवं सीमान्त कृषकों की कुल संख्या 2.15 करोड़ है.

भाजपा ने अपने चुनाव घोषणापत्र में इसका वादा किया था 

भाजपा ने अपने चुनाव घोषणापत्र में इसका वादा किया था और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी हर चुनावी सभा में जनता को भरोसा दिलाया था कि प्रदेश में पार्टी की सरकार बनने के बाद कैबिनेट की पहली ही बैठक में वह प्रदेश का सांसद होने के नाते किसानों का कर्ज माफ करवाएंगे.

leave a comment

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: