Could create table version :No database selected कुलगाम में आतंकवादियों से मुठभेड़ में सेना का जवान शहीद, तीन आतंकी ढेर – SI News Today
ताज़ा खबर:-

कुलगाम में आतंकवादियों से मुठभेड़ में सेना का जवान शहीद, तीन आतंकी ढेर

कुलगाम में आतंकवादियों से मुठभेड़ में सेना का जवान शहीद, तीन आतंकी ढेर

कुलगाम में आतंकवादियों से मुठभेड़ में सेना का जवान शहीद, तीन आतंकी ढेर

Army jawan martyr, three militant heap in encounter with army in Kulgam.

जम्मू एवं कश्मीर के कुलगाम जिले में रविवार को सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ हुई. पुलिस सूत्रों के मुताबिक सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद तुरीगाम गांव का घेराव किया और तलाशी अभियान शुरू किया. तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी. मुठभेड़ में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के शहीद होने की खबर है. शहीद अधिकारी की पहचान पुलिस उपाधीक्षक अमन ठाकुर के रूप में पहचान हुई है. जबकि एक जवान को गोली लगी है. वहीं, अभी तक सेना और पुलिस ने तीन आतंकियों को ढेर कर दिया है.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि कुछ आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने कुलगाम जिले के तुरिगाम इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया था. उन्होंने बताया कि आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की. सेना के जवाबी कार्रवाई करने के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई.

अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए हैं.उन्होंने बताया कि मारे गये आतंकवादियों और उनके समूह की पहचान की जा रही है. गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में बीते सोमवार को हुई मुठभेड़ में एक मेजर समेत सेना के पांच जवान शहीद हो गए थे, जबकि सेना ने जैश ए मोहम्मद के तीन आतंकवादियों को ढेर कर दिया. इस मुठभेड़ में एक आम नागरिक की भी मौत हो गई. यह मुठभेड़ उस जगह से कुछ ही दूरी पर हुई थी, जहां तीन दिन पहले 14 फरवरी को सीआरपीएफ की एक बस पर आत्मघाती हमला हुआ था. अधिकारियों ने बताया था कि दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले के पिंगलान इलाके में हुई मुठभेड़ में एक आम नागरिक की भी मौत हो गई.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया था कि सुरक्षा बलों को 14 फरवरी को हुए आतंकवादी हमले के स्थल से करीब 10 किलोमीटर दूर एक इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी. इसके बाद सुरक्षा बलों ने रात में इलाके की घेराबंदी की और तलाश अभियान शुरू किया. अधिकारियों ने बताया कि तलाश अभियान के दौरान आतंकवादियों ने बलों पर गोलीबारी की जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई.

पुलवामा में ही सीआरपीएफ के एक काफिले पर आत्मघाती हमला हुआ था, जिसमें इस अर्धसैनिक बल के कम से कम 40 जवान शहीद हो गए थे और कई घायल हुए थे. इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान बेस्ड आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. इसके बाद भारत ने पाकिस्तान पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है. पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत सरकार ने शनिवार को एक और कड़ा कदम उठाते हुये पाकिस्तान से आयातित होने वाले सभी सामानों पर सीमा शुल्क तत्काल प्रभाव से बढ़ाकर 200 प्रतिशत कर दिया. पाकिस्‍तान से एमएफएन का दर्जा वापस लिये जाने के बाद वहां से आयात होने वाली सभी वस्‍तुओं पर 200 फीसदी का सीमा शुल्‍क तत्‍काल रूप से लागू हो गया है.

leave a comment

Create Account



Log In Your Account