Friday, June 21, 2024
featuredदेश

नहीं रहना मुझे इस जाहिल के साथ और दर्ज करा दिया IPC Section 498A

SI News Today
I do not stay in this goth with the IPC Section 498A

पैसा किस तरह सम्बन्धो पर आजकल भारी पड़ रहा है इसका एक मामला सामने आया है। आजकल माँ-बाप, भाई-बहन, पति-पत्नी, दोस्त या कोई अन्य रिश्तेदार सब पर पैसा भारी पड़ जाता है। वक़्त बदलते ही इंसान बदल जाता है।

मगर इंसान को कभी उस वक़्त को नहीं भूलना चाहिए जब उस पर कोई भरोसा न कर रहा हो और अपनी औकात से ज्यादा आपके लिए कुछ करे तो इसका कतई मतलब नहीं कि आपका वो सम्बन्धी है या दोस्त है या जानने वाला है वो इसलिए कर रहा है, बल्कि वो इसलिए करता है कि आपसे वो प्यार करता है, आपको अपना मानता है और आप पर भरोसा करता है।
इसी तरह का कुछ वाक़्या एक सेना में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी युवक के साथ भी हुआ है सेना में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी युवक से कुछ साल पहले शादी करने वाली इंटर पास युवती अब एमबीए कर कॉरपोरेट कंपनी में नौकरी करने लगी तो उसे अब पति का स्टेट्स चुभने लगा। पति ने ही एक-एक पैसा जोड़कर शादी के बाद उसकी उच्च शिक्षा कराई। कुछ महीने पहले पति को छोड़कर मायके में रह रही युवती ने अब परिवार परामर्श केंद्र में तलाक दिलाने की मांग की।
पिछले साल दिसंबर में युवती ने पति के घर को छोड़ दिया था। इसके बाद उसने पति और ससुराल वालों पर दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया था। पुलिस अधिकारियों ने मामला दर्ज करने से पहले दोनों को परिवार परामर्श केंद्र भेजा। परिवार परामर्श केंद्र में युवती ने पति के कम पढ़े लिखे होने और उसके चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी होने को लेकर सवाल उठाए। उसने पति के माता-पिता को देहाती तक कह दिया। इसके बावजूद पति ने उसे साथ चलने और बखेड़ा न करने को लेकर काफी समझाया। युवती उसके स्टेट्स पर सवाल उठाते हुए तलाक पर अड़ गई। परिवार परामर्श केंद्र के अधिकारियों ने दोनों को सुलह-समझौते के लिए 15 दिन का मौका दिया है। साथ ही कहा है कि अगर वह समझौता नहीं चाहते तो कोर्ट में तलाक के लिए आवेदन कर सकते हैं।

Related Post – एक मुहिम यौन उत्पीड़न कानूनों को Gender-Neutral अपराध बनाये जाने के सम्बन्ध में

SI News Today

Leave a Reply