Wednesday, July 24, 2024
featuredउत्तर प्रदेशदिल्ली

पुलिसवाले ने कहा- यहीं सोना है आज पूरी रात, फिर हुआ ऐसा..

SI News Today

नोएडा: राम रहीम मामले में शुक्रवार को एनसीआर में हो रहे उपद्रव से बचने के लिए शुक्रवार शाम को एक बैंक मैनेजर व उनकी सॉफ्टवेयर इंजीनियर पत्नी ने सूझबूझ दिखाई, लेकिन इन्हें एक पुलिसकर्मी ने लूट लिया। दरअसल, ऑफिस से कैब की बजाय खुद पत्नी को कार से लेेने आए पति नोएडा सेक्टर-135 स्थित कंपनी के पास सड़क किनारे रुककर कुछ खाने-पीने लगे; उसी दौरान एक पुलिसकर्मी इन्हें गर्लफ्रेंड-बॉयफ्रेंड बताकर गिरफ्तार करने की धमकी देने लगा। वर्दीवाले ने भरोसा नहीं किया…

– युवती ने शादी के फोटो भी दिखाए इस पर भी वर्दीवाले ने भरोसा नहीं किया और मैरिज सर्टिफिकेट मांगने लगा। इसका विरोध जताने पर आरोपी वर्दीवाले ने कुछ साथियों को बुलाकर दोनों को कंस्ट्रक्शन साइट की तरफ ले जाने की धमकी दी।

– इस पर डरकर युवती ने अपना वॉलेट दे दिया, जिसमें रखे 960 रुपए को उसी वर्दीधारी ने ले लिया और फिर चला गया।

– शुक्रवार शाम को राम रहीम मामले को लेकर नोएडा में हाई अलर्ट के बाद एक्सप्रेस-वे के पास हुई इस घटना से सनी सुमांशु व पत्नी अर्पणा पाठक दोनों काफी सहम गए।

– सनी सुमांशु एक बैंक में मैनेजर हैं और अर्पणा नोएडा सेक्टर-135 में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। दोनों इंदिरापुरम में रहते हैं।

– सनी ने बताया कि घटना के बाद कार से इंदिरापुरम स्थित घर लौटते समय रास्ते में एक पुलिस चौकी में सूचना दी। वहां मौजूद दरोगा विनोद यादव ने जब हुलिया पूछकर वाट‌सएेप पर कुछ फोटो दिखाए तब पता चला कि शुक्रवार दोपहर से ही जिस सिपाही ने छुट्टी ली हुई थी उसी ने इस घटना को अंजाम दिया है। इसलिए उसके लौटने के बाद जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

पुलिसकर्मी ने कहा- यहीं सोना है
– आज पूरी रात सॉफ्टवेयर इंजीनियर अर्पणा पाठक ने इस पूरी घटना को अपने फेसबुक पर भी लिखा है।

– उन्होंने बताया कि सेक्टर-135 में रोड किनारे शुक्रवार रात करीब 9 बजे ही कार में हम दोनों को खाते हुए देखकर वर्दी वाले ने विंडो खुलवा लिया। इसके बाद कहा कि यही सोना है क्या आज पूरी रात…। यह सुनकर हम दंग रह गए। इससे पहले उसने अपनी कार को हमलोगों की कार के सामने लगा दी थी।

इसलिए हमलोग कार भी नहीं ले जा सकते थेे।
‘क्या हम रास्ते में मैरिज सर्टिफिकेट लेकर चलें’
#पुलिसकर्मी और दंपति के बीच हुई बातचीत

पुलिस कर्मी- तुमलोग पति-पत्नी नहीं हो। कोई प्रूफ है।
अर्पणा पाठक ने तुरंत अपने मोबाइल फोन पर शादी के समय के फोटो दिखाए।
पुलिस कर्मी- मैं कैसे मान लूं कि ये असली शादी के फोटो हैं। ये फर्जी कोर्ट मैरिज के भी फोटो हो सकते हैं।
अर्पणा पाठक – क्या करें, हम रास्ते में चलते समय भी मैरिज सर्टिफिकेट लेकर चले क्या फिर?
पुलिस कर्मी- मैं नहीं मानता, अपने माता-पिता से बात कराओ।
अर्पणा पाठक व इनके पति सनी दोनों ने अपने-अपने माता-पिता से फोन पर बात कराई तब भी नहीं माना।
पुलिस कर्मी- कोई नहीं, तुम दोनों लोगों को तो 10 हजार रुपए का चालान भरना ही होगा।
अर्पणा पाठक – हमलोगों के पास इतने रुपए नहीं हैं। इस पर पुलिसवाले ने धमकाया तो फिर वॉलेट ही दे दिया।

SI News Today

Leave a Reply