Tuesday, May 28, 2024
featuredउत्तर प्रदेश

मायावती ने बसपा का नया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भाई आनंद को बनाया

SI News Today

अंबेडकर जयन्ती के मौके पर बाबा साहब डा. अंबेडकर सामाजिक परिवर्तन स्थल पर श्रद्धासुमन अर्पित करने पहुंचीं बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने भाजपा पर पिछड़ों, दलितों और सवर्णों को धोखा देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पिछड़ी जाति का प्रदेश अध्यक्ष बना कर चुनाव लड़ा और वोट मांगा लेकिन आरएसएस के आदमी को मुख्यमंत्री बना दिया। शुक्रवार को इस मौके पर उन्होंने अपने भाई आनन्द कुमार को बसपा का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाने की घोषणा की।

ईवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे पर किसी का भी साथ लेने को तैयार

मायावती ने कहा कि भाजपा ने ईवीएम में गड़बड़ी करके चुनाव जीता। उन्होंने इस मुद्दे को सबसे पहले उठाया और अब इस मुद्दे पर किसी का भी साथ लेने को तैयार हैं। लोकतंत्र बचाने के लिए वह किसी का भी सहयोग ले सकती हैं। भाजपा ने विधानसभा चुनाव में 250 सीटों पर ईवीएम में गड़बड़ी की, क्योंकि उसे विश्वास था कि इन सीटों पर वह जीत नहीं सकती है।

भाई आनन्द कुमार बने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष

उन्होंने अपने भाई आनन्द कुमार को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाने की घोषणा करते हुए कहा कि पार्टी के संविधान में उपाध्यक्ष को बहुत पॉवर है। इसी के साथ उन्होंने कहा कि आनन्द कुमार मुख्यमंत्री-मंत्री नहीं बनेंगे। मायावती ने भाजपा पर खुद उन्हें, भाई आनन्द और दूसरे रिश्ते-नातेदारों को परेशान करने का आरोप लगाते हुआ कि जिस तरह 2003 में भाजपा ने उनके खिलाफ साजिश की, परेशान किया ठीक उसी तरह इस समय किया जा रहा है। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि मैं आवाज न उठाऊं, लेकिन मैं मरते दम तक बोलती रहूंगी।

सीएम से मिलेगी कमेटी

मायावती ने बसपा सरकार में बने स्मारकों आदि का रखरखाव न होने का मुद्दा उठाते हुए पार्टी की 5 सदस्यीय कमेटी बनाने की घोषणा की। इस कमेटी में प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर, लालजी वर्मा, नसीमुद्दीन सिद्दीकी और सतीश चन्द्र मिश्र होंगे जो मौका मुआयना करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ से मिलकर उनसे समुचित रखरखाव कराने का अनुरोध करेंगे।

SI News Today

Leave a Reply