Thursday, June 20, 2024
featuredलखनऊ

लखनऊ: अंग्रेज बाबा की मजार पर लोग जरूर चढ़ाते हैं सिगरेट, जानिए

SI News Today

लखनऊ: 27 सितंबर, वर्ल्ड टूरिज्म डे (विश्व पर्यटन दिवस) के लिए भी मशहूर है। इस मौके पर हम आपको बताने जा रहा है लखनऊ के ऐसे 10 अननोन स्पॉट के बारे में, जिनके बारे में शायद आप जानते हों।

इन स्पॉट से कोई न कोई इंट्रेस्टिंग कहानी जुड़ी हुई। हम इतिहासकार डॉ. योगेश प्रवीण की किताब ‘लखनऊ: सदियों का सफ़र’ के माध्यम से कुछ इंट्रेस्टिंग प्लेस के बारे में बता रहे हैं।

सिगरेट बाबा की मजार
लखनऊ शहर के आउटर साइड में हरदोई रोड पर मूसाबाग के खंडहर में कैप्टन एफ वेल्स उर्फ कप्तान साहब की कब्र है। जो सिगरेट बाबा की कब्र के नाम से मशहूर है।

दरअसल, 21 मार्च 1858 के स्वतंत्रा संग्राम में ब्रिटिश सेना और लखनऊवासियों के बीच जंग हुई। तभी मूसाबाग में जंग के दौरान कप्तान वेल्स की हत्या कर दी गई। इसके बाद यहां कप्तान की मजार बना दी गई। कहा जाता है कि कैप्टन वेल्स को सिगरेट पीने का बहुत शौक था और इसलिए यहां आने वाले लोग उनकी मजार पर सिगरेट जरूर चढ़ाते हैं। हालांकि, यह कब्र एक क्रिस्चियन की है, लेकिन सभी धर्म के लोग यहां आते हैं। ज्यादातर लोग गुरुवार को आते हैं।

क्यों मनाया जाता है विश्व पर्यटन दिवस
विश्व पर्यटन दिवस समारोह ‘संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन’ द्वारा 1980 में शुरु किया गया, जो प्रत्येक वर्ष 27 सितम्बर को मनाया जाता है। यह विशेष दिन इसलिए चुना गया क्योंकि इस दिन 1970 में UNWTO (यूनाइटेड नेशन्स वर्ल्ड टूरिज्म ऑर्गनाइजेशन) के कानून प्रभाव में आए थे। इसका लक्ष्य विभिन्न देशों की सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक मूल्यों को वैश्विक स्तर पर प्रचारित करना है।

SI News Today

Leave a Reply