ताज़ा खबर:-

सपा प्रमुख अखिलेश यादव श्रमिकों से टिकट के पैसे लेने पर केंद्र सरकार पर बरसे , कहा- फिर कोविड केयर फंड के लिए पैसे क्यों लिए जा रहे

सपा प्रमुख अखिलेश यादव श्रमिकों से टिकट के पैसे लेने पर केंद्र सरकार पर बरसे , कहा- फिर कोविड केयर फंड के लिए पैसे क्यों लिए जा रहे

सपा प्रमुख अखिलेश यादव श्रमिकों से टिकट के पैसे लेने पर केंद्र सरकार पर बरसे , कहा- फिर कोविड केयर फंड के लिए पैसे क्यों लिए जा रहे

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। कोरोनावायरस संक्रमण में लॉकडाउन में महाराष्ट्र के नासिक रोड में फंसे 847 लोग ट्रेन से लखनऊ पहुंचने के बाद रोडवेज की बसों से अपने-अपने गृह जनपद रवाना हो गए। इस बीच सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विशेष ट्रेन से लखनऊ पहुंचे श्रमिकों से टिकट की कीमत वसूलने बेहद शर्मनाक बताते हुए कहा है कि जब पैसे ही लेने थे तो कोविड-19 केयर फंड में पैसे क्यों डलवाए गए।

अखिलेश यादव ने रविवार सुबह दो ट्वीट किए। उन्होंने पहले ट्वीट में लिखा, ट्रेन से वापस घर ले जाए जा रहे गरीब, बेबस मजदूरों से भाजपा सरकार का रुपया वसूलना बेहद शर्मनाक है। आज साफ हो गया है कि पूंजीपतियों का अरबों माफ करनेवाली भाजपा अमीरों के साथ है और गरीबों के खिलाफ। विपत्ति के समय गरीबों का शोषण करना सूदखोरों का काम होता है, सरकार का नहीं।

दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि अब तो भाजपा के आहत समर्थक भी यह सोच रहे हैं कि अगर समाज के सबसे गरीब तबके से भी घर भेजने के लिए सरकार को पैसे लेने थे तो तरह-तरह के फंड में जो खरबों रुपया तमाम दबाव व भावनात्मक अपील करके डलवाया गया है उसका क्या होगा। अब तो यूपी में आरोग्य सेतु एप से भी 100 रुपया वसूलने की खबर है।
पीएम केयर फंड में 100-100 रुपए जमा होने पर प्रियंका गांधी ने भी उठाए थे सवाल

भदोही में कोविड-19 के लिए सरकारी महकमा द्वारा पीएम केयर में सौ सौ रुपए फंड जुटाने को लेकर उन्होंने हमला किया है। प्रियंका गांधी ने ट्वीट के जरिए लिखा था, ”एक सुझाव: जब जनता त्राहिमाम कर रही है। राशन, पानी, नकदी की किल्लत है और सरकारी महकमा सबसे सौ-सौ रुपए पीएम केयर के लिए वसूल रहा है। तब हर नजरिए से उचित रहेगा कि पीएम केयर की सरकारी ऑडिट भी हो?

leave a comment

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: