Friday, July 19, 2024
featuredदेश

राहुल गांधी का हस्‍ताक्षर हिंदी में देखकर चौंके लोग, कहा ऐसा…

SI News Today

राष्ट्रीय जनता दल की बीजेपी भगाओ, देश बचाओ रैली के लिए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लिखित संदेश भेजा। लेकिन सोशल मीडिया में राहुल गांधी का आरजेडी की रैली के लिए ये संदेश विवादों में आ गया। संदेश पत्र में राहुल गांधी का हिन्दी में हस्ताक्षर देखकर कई लोगों का कहना है कि राहुल गांधी का ये हस्ताक्षर कहीं फर्जी तो नहीं है। बता दें कि राहुल गांधी इस वक्त नार्वे के आधिकारिक दौरे पर हैं। राहुल गांधी ने अपने संदेश पत्र में खुद ये बात लिखी है। राहुल गांधी के हस्ताक्षर को देख कर एक यूजर ने लिखा, ‘राहुल गांधी के साइन भी लगता है किसी कांग्रेसी गुलाम ने किया है।’ एक यूजर ने लिखा, ‘लगता है राहुल गांधी का हस्ताक्षर तेजस्वी यादव ने किया है।’ सत्यम बर्णवाल ने लिखा है कि लगता है नर्सरी के बच्चे ने अपना नाम लिखा हो।’

राहुल ने अपने संदेश में लिखा है, ‘मुझे बेहद खुशी है कि पटना में आरजेडी ने विशाल रैली रखी है। जिसमें समान विचारधारा के लोग शामिल हो रहे हैं। यह रैली ऐसे वक्त पर हो रही है जब देश के बुनियादी ढांचे पर हमला हो रहा है, धन और बाहुबल के बल पर ऐसे राज्यों में विस्तार किया जा रहा जहां बहुमत नहीं मिला था। ये सरकार जनता से किए वादों को भुला देना चाहती है। राहुल ने आगे लिखा,’ मैं रैली में शामिल होना चाहता था लेकिन नोर्वे के आधिकारिक दौरे की वजह से नहीं आ पाया।’

इस रैली को कांग्रेस की ओर से पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने भी संबोधित किया। विवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि असली जनता दल (युनाइटेड) शरद यादव की है, नीतीश को दोबारा चुनाव लड़ना चाहिए। पटना में राजद द्वारा आयोजित रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, “उनकी शादी के फेरे महागठबंधन में हुए हैं, लेकिन तलाक अभी नहीं हुआ है।”आजाद ने कहा कि बिहार में राजद, जद (यू) और कांग्रेस ने मिलकर भाजपा के नेतृत्व वाले राजग को हराया था, लेकिन आज नीतीश कुमार उसी भाजपा के साथ मिलकर सरकार चला रहे हैं, जिसे जनादेश नहीं मिला था। यह जनादेश का अपमान है।

SI News Today

Leave a Reply