Monday, January 23, 2023
featuredउत्तर प्रदेशक्राइम न्यूज़फैज़ाबादलखनऊ

योगी जी का मिशन शक्ति बन रह गया मज़ाक, एक गरीब और असहाय महिला और उसके परिवार को दबंगों के द्वारा किया जा रहा है प्रताड़ित।

SI News Today

Yogi ji’s “Mission Shakti” remains in-jokes, A poor and helpless woman and her family are being tortured by domineering.

#UttarPradesh #CrimeNews #MissionShakti 

महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन के उद्देश्य से योगी आदित्यनाथ सरकार ने 17 अक्तूबर से ‘मिशन शक्ति’ का आगाज किया था।

एक तरफ #UPCM श्री #YogiAdityanath उत्तर प्रदेश को अपराध मुक्त करने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं तो दूसरी तरफ दबंग और अपराधी किस्म के लोग शासन और प्रशासन में कार्यरत अधिकारियों को अपनी कठपुतली समझते हैं। हाल-फिलहाल में ही एक ऐसा ही मामला राम नगरी अयोध्या के ग्राम- बदाकपुर (सराय सागर), ब्लॉक- मया बाजार, थाना- महराजगंज का आया है, जहां एक गरब और असहाय महिला और उसका परिवार दबंगों की वजह से कई वर्षों से बहुत परेशानियां झेल रहा है। इतना ही नहीं उनकी दबंगई से उसका परिवार भी दर बदर ठोकरें खाने को मजबूर है।

दरअसल मामला ये है कि उपरोक्त गाँव के नीलम देवी उनके पति ओम प्रकाश मौर्य को पैतृक संपत्ति के नाम पर बंटवारे में सरिया (जानवरों को बांधने के लिए छप्पर) मिला था जो कि पिछले साल की बारिश में गिर गया। वर्ष 2020 में प्रधानमंत्री जी के द्वारा उन्हें PMAY (ग्रामीण) के तहत आवास आवंटित हुआ। ये दंपत्ति बहुत खुश थे कि वे पिछले कई सालों से छप्पर में रह रहे थे और अब उन्हें पक्का मकान मिल जायेगा।

परन्तु ये बात उनके पड़ोसियों को हज़म नहीं हुयी। वे आये दिन कुछ न कुछ परेशानी खड़ी कर दे रहे थे। जब इस गरीब दंपत्ति ने अपने आवास के लिए अपनी ही जमींन पर नीव खोदनी चाही तो दबंग पडोसी बद्री विशाल तिवारी और उनका पुत्र रजनीश तिवारी विरोध करने लगे और मार-पीट पर आमादा हो गए। जिससे वे डरकर 14/02/2021 को थाना महराजगंज में SHO के पास प्रार्थना पत्र लेकर गए और SHO महोदय ने मौके पर जाकर जाँच में पाया कि परिवार अपनी निजी संपत्ति के अधिकार क्षेत्र में ही है साथ ही उन्होंने न्यायपूर्वक महिला को आश्वासन दिया कि वे अपनी जमीन में पुरानी दीवाल से दीवाल उठा सकते हैं। SHO महोदय के चले जाने के तुरंत बाद दबंग पडोसी बद्री विशाल तिवारी और उनका पुत्र रजनीश तिवारी गाली-गलोज करते हुए और उनके परिवार को धमकाते हुए फावड़ा लेकर मारने को दौड़े। जबकि दबंग पडोसी बद्री विशाल तिवारी ने स्वयं अपना पक्का घर आने जाने वाले मार्ग पर कब्ज़ा कर बनवा रखा है, जिससे आने जाने वालों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है। 

इस डर के कारण कहीं मेरे परिवार को कोई क्षति ना हो जाए इसलिए नीलम देवी ने अपने सदर तहसील की ही महिला SDM माननीय ज्योति सिंह जी को 15/02/2021 को एक प्रार्थना पत्र दिया कि कुछ लोग हमारे परिवार को साज़िशन फ़र्ज़ी मुकदद्मों में उलझाकर परेशान करना चाहते हैं. जिसमे प्रमुखता से उनके दबंग पडोसी बद्री विशाल तिवारी और उनका पुत्र रजनीश तिवारी उन्हें पिटवाने दी धमकी देते आये थे. मगर SDM सदर अयोध्या ने इस प्रार्थना पात्र पर कोई कारवाही नहीं की गयी.

वे गोसाईंगंज अयोध्या के विधायक श्री इन्द्र प्रताप तिवारी उर्फ़ खब्बू तिवारी जी को अपना रिश्तेदार बताकर शासन-प्रशासन में अपनी धौंस और दबदबा रखने कोशिश करते हैं , जिस कारण इस दबंग पडोसी बद्री विशाल तिवारी और उनका पुत्र रजनीश तिवारी सांठ-गाँठ करके अवैधानिक तरीके से नीलम देवी, उनके पति ओम प्रकाश मौर्य और गाँव से दूर रहकर तैयारी करने वाले इनके मझले पुत्र को शांति-भांग के आरोप में फंसा दिया गया और वाद संख्या-1763/2021 तामील करवा दिया गया.

इस डरे सहमे परिवार से जब बात करने की कोशिश की गयी तो बस इतना ही कहे कि आप लोग यहाँ से चले जाइये नहीं तो ये लोग तथा जो हामरे खेतों में अपना नाली का गन्दा पानी छोड़कर हमारे खेत बर्बाद कर रहे हैं वे हमें मरवा देंगे. नीलम देवी तो मानसिक प्रताड़ना का तो ओम प्रकाश मौर्य भय से आतंकित है. अब ये दंपत्ति डर कि वजह से अपना आवास उस स्थल के बजाय खेत में बनवाने को मजबूर है अब ऐसे में सवाल उठता है कि माननीय योगी जी के भयमुक्त और अपराधमुक्त उत्तर प्रदेश का सपना कैंसे साकार होगा? महिला आयोग से लेकर प्रधानमंत्री तक सब को प्रार्थना पत्र देकर न्याय कि गुहार लगाने वाली इस असहाय महिला को न्याय कब मिलता है?

SI News Today

Leave a Reply