Saturday, April 13, 2024
featured

ऋषि कपूर को जब यूजर ने कहा ‘पाखंडी’ तो मिला ये जबाव

SI News Today

हमेशा से अपने बेबाक बयानबाजी और ट्विटर के जरिए सुर्खियों में रहने वाले अभिनेता ऋषि कपूर एक बार फिर अपनी पोस्ट को लेकर चर्चा का विषय में आ गए हैं। हाल ही ऋषि कपूर ने अपने ट्विटर एकाउंट पर एक ट्विट पोस्ट किया है। ऋषि कपूर ने अपने इस ट्विट में लिखा है कि उनका परिवार हमेशा से धर्मनिरपेक्ष रहा है और वह सभी धर्मो का बराबर सम्मान करता है। आपको बता दें कि ऋषि कपूर ने ये ट्विट उस यूजर के लिए लिखा है, जिसने उन्हें पाखंडी कहा। जी हां, ऋषि कपूर के एकाउंट पर एक यूजर ने पोस्ट कर लिखा कि…अगर आपको मुसलमानों से इतनी नफरत है तो आप सभी भारतीय बड़े मुस्लिम देशों में काम करने और पैसा कमाने क्यों जाते हैं? पाखंडी! इसके बाद

एक और ट्वीट में कहा गया, किसने आपको मुसलमानों से नफरत करने पर मजबूर किया है। दोनों यूजर की इन्हीं ट्वीट्स पर प्रतिक्रिया करते हुए ऋषि कपूर ने कहा, उन पर यह आरोप गलत और दुखद हैं। हमारा परिवार हमेशा से धर्मनिरपेक्ष रहा है और हमारा परिवार सभी धर्मो का बराबर सम्मान करता है।  ऋषि लगभग दो दशकों के बाद अभिनेता अमिताभ बच्चन के साथ फिल्म 102 नॉट आउट’ में दिखाई देंगे। यह फिल्म सौम्या जोशी के गुजराती नाटक पर आधारित है। इसमें अमिताभ 102 साल के वृद्ध और ऋषि उनके 75 साल के बेटे के किरदार में नजर आएंगे।

बता दें कि इससे पहले चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान के हाथों मिली करारी शिक्सत के बाद ऋषि कपूर ने एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल से कहा कि पाकिस्तान के लड़के मुझे ट्वीट करके मेरे धर्म पर हमला बोलते हैं, उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। दरअसल पाकिस्तान में ऋषि कपूर के एक ट्वीट से उनके चाहने वालों को धक्का लगा था जिसमें उन्होंने लिखा था- मैं पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से कहना चाहूंगा कि फाइनल में अच्छी टीम भेजें क्योंकि उस दिन फादर्स डे है और बाप आखिर बाप होता है। फाइनल में जब भारत पाकिस्तान के हाथों हार गया तो वहां के एक न्यूज चैनल दुनिया न्यूज ने ऋषि कपूर को फोन कर उनसे बात की। इस चैनल के एंकर ने जब ऋषि कपूर से पूछा कि आप ने जो ट्वीट किया था कि भारत बाप है और पाकिस्तान बेटा, आपने ऐसा क्यों कहा था, और अब क्या कहना चाहेंगे। चैनल के एंकर कामरान शाहिद के इस सवाल के जावाब में बॉलीवुड एक्टर ने कहा कि पाकिस्तानी लड़के मुझे ट्विटर पर गालियां दे रहे थे, मेरे धर्म के बारे में बोल रहे थे और साथ ही मेरे देश के बारे में भी गलत बातें कर रहे थे इसिलिए मैंने वो ट्वीट किया था, हालांकि मुझे गालियां देने वालों के ट्वीट्स भी मुझे रिट्वीट करने चाहिए थे जिससे किसी को मेरे ट्वीट से कोई गलतफहमी ना होती।

SI News Today

Leave a Reply