Thursday, June 20, 2024
featuredदेश

मोदी के श्रीलंका में दौरा करने से पहले तीर्थयात्रियों पर ततैयों के डंक से हमला

SI News Today

श्रीलंका में बौद्धों के सबसे पवित्र दिन त्योहार मना रहे तीर्थयात्रियों पर आज ततैयों ने हमला कर दिया। घटना में 50  तीर्थयात्रियों घायल हुए हैं। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस का कहना है कि ततैयों के डंक से घायल हुए लोगों में एक भिक्षु भी शामिल है। हादसा राष्ट्रीय राजधानी कोलंबो से 110 किलोमीटर उत्तर में स्थित मुंडल की मंदिर में हुआ।
भगवान बुद्ध के जन्म, बोद्धिसत्व की प्राप्ति और निर्वाण के अवसर पर वैसाख त्योहार मनाने के लिए तीर्थयात्री एकत्र हुए थे। इस सप्ताह के आरंभ में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की यात्रा की तैयारियों के तहत श्रीलंकाई चाय बगानों से ततैयों के दो छत्ते हटाये गये थे। खतरा था कि पास में उतरने वाले हेलीकॉप्टर की कंपन से छत्ते हिलेंगे और ततैये गुस्से में हमला कर सकते हैं। वैसाख में भाग लेने के लिए मोदी बृहस्पतिवार को श्रीलंका पहुंचने वाले हैं। वह शुक्रवार को बगानों की यात्र करेंगे।

नरेंद्र मोदी की आज यानी 11 मई से श्रीलंका दौरे पर की यात्रा है। पीएम मोदी बौद्ध कैलेंडर के सबसे महत्वपूर्ण दिन, वेसक दिवस पर आयोजित समारोह में शामिल होने के लिए श्रीलंका दौरे पर हैं। श्रीलंका के कानून मंत्री विजयदासा राजपक्षे ने पहले ही जानकारी दी थी कि पीएम मोदी मई के दूसरे हफ्ते में कोलंबो पहुंचेंगे। श्रीलंका दौरे में मोदी जाफना भी जाएंगे। अंतरराष्ट्रीय वेसक दिवस के समापन पर अंतरराष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन का आयोजन होगा जिसमें 100 से ज्यादा देशों के 400 प्रतिनिधि भाग लेंगे। वेसक दिवस बौद्ध कैलेंडर का सबसे अहम दिन है। इसी दिन भगवान बुद्ध का जन्म, उनकी मृत्यु और उन्हें ज्ञान की प्राप्ति हुई थी। 2 दिवसीय यात्रा के दौरान मोदी के मध्य प्रांत स्थित कैंडी की यात्रा करने की संभावना है। यह क्षेत्र चाय के उत्पादन के लिए मशहूर है। प्रधानमंत्री का पदभार ग्रहण करने के बाद मोदी की यह दूसरी श्रीलंका यात्रा होगी। प्रधानमंत्री कुछ बौद्ध मंदिरों की भी यात्रा कर सकते हैं

SI News Today

Leave a Reply