Friday, March 1, 2024
featuredदुनिया

तालिबान के खौफ से उबर रहा है अफगानिस्तान

SI News Today

सोलह सालों से जंग और दशहतगर्दी का दंश झेल रहे अफगानिस्तान के लोगों को हाल ही में एक बेहतरीन तोहफा मिला है। हालांकि भारतीय इस तोहफे को सालों से एंज्वॉय कर रहे हैं लेकिन इतने साल बाद भी अफगानिस्तान को मिला ये गिफ्ट लोगों की जिंदगी में खुशियों के पल भर गया है। हाल में अफगानिस्तान में महिलाओं के लिए एक चैनल लॉन्च किया गया है। खास बात ये है कि इस चैनल को पूरी तरह से महिलाएं ही चलाती हैं। चैनल की एंकर तो महिला है ती, प्रोड्यूसर, कॉपी राइटर, मेकअप वूमेन भी महिलाएं ही हैं। हालांकि टेक्निकल काम के लिए पुरुष स्टाफ महिलाओं की मदद कर रहे हैं। तालिबानियों का कट्टरपंथ झेल चुके अफगानिस्तान के लिए ये चैनल किसी उपलब्धि से कम नहीं है। वूमेन्स टीवी नाम के इस चैनल एक आम अफगानी शहरी की जिंदगी में कई बदलाव ला दिये हैं। जहां पहले यहां के लोग जंग, धमाका और तालिबान से जुड़ी खबरें देखते रहते थे अब उन्हें संगीत, सीरियल, ड्रामा, टॉक शोज और कई तरह की चीजें देखने को मिलती हैं।

वूमेन्स टीवी हालांकि महिलाओं के लिए है लेकिन इसे हामिद समर नाम के बिजनेसमैन ने शुरू किया है। समाचार एजेंसी रायटर के मुताबिक 22 साल की समीला रसूली इस चैनल में एंकर है और वो बेहद उत्साहित है। अफगानिस्तान में टीवी में काम करना उनके लिए एक सपने के साकार होने जैसा है। इसी तरह 20 साल की खैतरा अहमदी इस चैनल में प्रोड्यूसर हैं। अहमदी ने रायटर को बताया कि वो इस चैनल में काम कर बेहद खुश हैं, क्योंकि उनके देश में कई ऐसी महिलाएं हैं जो महिलाओं के हक को लेकर वाकिफ नहीं हैं। अहमदी का कहना है कि वो इसके जरिये लोगों को जागरुक करेंगी।

इस चैनल में काम करना इन लड़कियों के लिए इतना आसान नहीं है। इन्हें अफगानिस्तान के पितृसत्तात्मक समाज में ताने सहने पड़ते हैं। रिश्तेदार तंज कसते हैं, और तालिबानियों का खतरा अलग से हैं। लेकिन ये युवा हौसले इनसे जरा भी खौफ नहीं खाते। इनका कहना है कि वे अपने देश और समाज के लिए इतना खतरा मोल उठाने को तैयार हैं।

SI News Today

Leave a Reply