Wednesday, July 24, 2024
featuredटेक्नोलॉजीदुनियादेश

जब चीन पोर्न के खिलाफ ऐसा कर सकता है तो हमारा भारत क्यों नहीं

SI News Today

When China can do this against porn then why not our India.

     

कहते हैं कि अगर किसी देश की नस्ल ख़राब करने है तो उसे नशे और अश्लील साहित्य का आदि बना दीजिये वो देश अपने आप ख़त्म हो जायेंगे. यही हाल हमारे भारत का भी है. अगर आप आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले ४ सालों में इंटरनेट फ्री होने का फायदा अच्छी शिक्षा लेने में कम अश्लील और पोर्न websites खोलने में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया जा चुका है. निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करने से आपको पता चल जायेगा कि हमारे देश में इतने फ्री इंटरनेट की खपत कहाँ हो रही है-

                                      Top Visited Websites Ranking in INDIA

वही हमारा पडोसी देश चीन इस जहर को अपनी युवा नस्लों में फैलने से रोकने के लिए कदम उठा चुका है. ताज़ा जानकारी के मुताबिक फेक न्यूज़ और खासतौर पर पोर्न सामग्रियों के खिलाफ चलाए जा रहे राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत 4000 से अधिक वेबसाइट और अकाउन्ट बंद कर दिए हैं. चीन के सरकारी मीडिया ने शनिवार को बताया कि यह अभियान ‘नेशनल ऑफिस अगेंस्ट पोर्नोग्राफिक एंड इलीगल पब्लिकेशंस’ और ‘स्टेट एडमिनिस्ट्रेशन ऑफ प्रेस एंड पब्लिकेशन’ ने मई में संयुक्त रूप से शुरू किया था.

नेशनल ऑफिस अगेंस्ट पोर्नोग्राफिक एंड इलीगल पब्लिकेशंस के तहत 1,47,000 से ज्यादा नुकसानदेह सूचनाओं को हटाया या फिल्टर किया गया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि इस तरह के कदम भविष्य में और तेज होंगे ताकि स्वस्थ और स्वच्छ ऑनलाइन साहित्यिक वातावरण सुनिश्चित किया जा सके.

Technology का हाथ में आने का ये कतई मतलब नहीं कि उसका इस्तेमाल भी सही लोग कर रहे हों!

SI News Today

Leave a Reply