Saturday, April 20, 2024
featured

झारखंड की घटना पर फूटा लेखक चेतन भगत का गुस्सा

SI News Today

गुरुवार 29 जून को झारखंड में बीफ ले जाने के शक में एक मुस्लिम शख्स की भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या किये जाने से आहत मशहूर लेखक चेतन भगत ने तथाकथित गोरक्षकों पर अपनी भड़ास निकाली है। चेतन भगत ने ऐसे लोगों से पूछा है कि क्या वो लोग अपनी भी जान लेंगे, क्योंकि वो भी तो गाय के चमड़े से बने जूते पहनते हैं। दरअसल गुरुवार को प्रधानमंत्री ने अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से कहा कि गोरक्षा के नाम पर हिंसा करना गलत है और ऐसा करने वालों को माफ नहीं किया जाएगा। प्रधानमंत्री के इस बयान के कुछ घंटों के अंदर ही झारखंड के रामगढ़ जिले में अलीमुद्दीन नाम के एक शखअस को अपनी मारुती वैन में बीफ ले जाने के शक में भीड़ी ने पीट-पीट कर हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक अलीमुद्दीन उर्फ असगर अंसारी एक मारुति वैन में ‘प्रतिबंधित मांस’ ले जा रहा था। सूत्रों ने कहा कि लोगों के एक समूह ने बाजरटांड गांव में उसे रोका और उस पर बेरहमी से हमला किया। उसके वैन को आग के हवाले कर दिया गया। पुलिसकर्मियों ने उसे भीड़ से बचाया और अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

इस घटना पर चेतन भगत ने अपनी तीखी प्रतिक्किया देते हुए ट्वीट किया। चेतन भगत ने अपने ट्वीट में लिखा- क्या बीफ के नाम पर किसी की भी जान ले लेने वाले खुद की भी जान लेंगे, क्योंकि वो भी तो गाय के चमड़े के बने जूते पहनते हैं। या ऐसा नहीं करेंगे क्योंकि गाय की खाल उधेड़ना तो ठीक है लेकिन उसका मांस खाना गलत।

आपको बता दें कि झारखंड की इस घटना से पूरे देश में आक्रोश का माहौल है। विरोधी पार्टियां पीएम मोदी पर हमला करते हुए कह रही हैं कि इस तरह से कानून हाथ में लेने वाले गोरक्षकों को सरकार और संघ का समर्थन प्राप्त है इसीलिए वो पीएम के भाषण के बाद भी ऐसा करने से बाज नहीं आ रहे। विरोधी दलों का ये भी कहना है कि इस तरह की ज्यादातर घटनाएं भाजपा शाषित राज्यों में ही हो रही हैं।

SI News Today

Leave a Reply