Saturday, April 13, 2024
featured

दुविधा में हैं राहुल द्रविड़ किसे चुनेंगे इस बार टीम इंडिया या आईपीएल?

SI News Today

भारत की अंडर-19 और इंडिया-ए के कोच राहुल द्रविड़ के सामने एक बड़ी दुविधा खड़ी हो सकती है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नए कॉन्ट्रैक्ट के मुताबिक कोई कोच, स्टाफ बोर्ड के किन्हीं दो पदों पर नहीं रह सकता. यह कॉन्ट्रैक्ट सुप्रीम कोर्ट की नई गाइडलाइन्स के तहत तैयार किया जाएगा. इसके बाद राहुल द्रविड़ को टीम इंडिया या आईपीएल में से किसी एक को चुनना होगा. अब देखना होगा कि भारतीय क्रिकेट की ‘दीवार’ कहे जाने वाले पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ टीम इंडिया या आईपीएल में से किसे चुनते हैं?

बता दें कि द्रविड़ इस वक्त भारत की अंडर-19 टीम के कोच और आईपीएल की दिल्ली डेयरडेविल्स टीम के मेंटर भी हैं. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, हितों के टकराव के तहत बीसीसीआई नए कॉन्ट्रैक्ट की तैयारी में है, जो सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक होगा. प्रशासकों की समिति का यह कॉन्ट्रैक्ट 12 महीने के लिए होगा. इसके तहत दो पदों पर साथ नहीं काम किया जा सकेगा.

यही कारण है कि राहुल को इन दोनों में से किसी एक को चुनना होगा. राहुल का बीसीसीआई के साथ अभी 10 माह का तो वही दिल्ली डेयरडेविल्स के साथ 2 माह का करार बाकी है. राहुल द्रविड़ की तरह कई ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्हें इस कॉन्ट्रैक्ट के तहत कोई एक पद छोड़ना पड़ सकता है. भारतीय क्रिकेट टीम के बैटिंग कोच संजय बांगड़, फील्डिंग कोट आर. श्रीधर और फीजियो टीम इंडिया के साथ-साथ आईपीएल की टीमों से भी जुड़े हैं, जिन्हें राहुल की तरह ही कोई एक पद चुनना पड़ेगा.

फिलहाल बांगड़ टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच हैं. वहीं एस श्रीधर टीम इंडिया में फिल्डिंग कोच की भूमिका में हैं. इसके साथ ही ये पूर्व खिलाड़ी आईपीएल में भी अलग-अलग फ्रेंचाइजी के लिए कोच और मेंटोर की भूमिका निभा रहे हैं. वहीं, बीसीसीआई के सूत्रों के मुताबिक, द्रविड़ को इस नए नियम से कोई समस्या नहीं है, बोर्ड द्रविड़ को होने वाले नुकसान की भरपाई करने को तैयार है, लेकिन इसके बदले राष्ट्रीय स्तर पर उनकी जिम्मेदारियां और बढ़ जाएंगी.

गौरतलब हो, इन नए नियमों का असर द्रविड़ पर ही नहीं बल्कि अन्य लोगों पर भी पड़ने वाला है, जिनमें वरिष्ठ टीम के बैटिंग कोच संजय बांगड़, आर श्रीधर और एंड्रयू लीपस  जैसे नाम शामिल हैं.

SI News Today

Leave a Reply