Sunday, May 19, 2024
featured

IPL 2017: अजिंक्‍य रहाणे बोले- कप्‍तान चाहे स्‍टीव स्मिथ हों लेकिन टीम के बॉस तो एमएस धोनी ही हैं

SI News Today

अजिंक्य रहाणे ने आईपीएल-10 में राइजिंग पुणे सुपरजायंट के कप्तान स्टीव स्मिथ को लेकर बड़ा खुलासा किया है। इस ओपनर बल्लेबाज ने बताया कि स्टीव स्मिथ को भले ही इस साल एमएस धोनी की जगह टीम का कप्तान बनाया गया है लेकिन स्मिथ ने खुद महेंद्र सिंह धोनी से कप्तानी के टिप्स लिए हैं। उनका कहना है कि धोनी हमेशा टीम के लिए बॉस बने रहेंगे।

रहाणे का खुद कहना है कि ‘भले ही स्टीव स्मिथ ने ऑस्ट्रेलियाई टीम का सफल प्रतिनिधित्व किया है, लेकिन मेरे लिए एमएस धोनी अभी भी सर्वश्रेष्ठ लीडर हैं। स्मिथ का आरपीएस के कप्तान के रूप में पहला मैच था, लेकिन उन्होंने धोनी से काफी टिप्स हासिल की। स्मिथ को धोनी से मैदान में टिप्स लेते हुए देखा गया और पूर्व कप्तान ने बखूबी टिप्स देकर टीम को सफलता दिलाई।’ बता दें कि स्मिथ ने 84 रन की मैच विजयी पारी खेलने के साथ धोनी संग 44 रन की साझेदारी की थी।

रहाणे ने कहा, ‘इन दोनों दिग्गजों के बीच तुलना का जवाब देना मुश्किल है क्योंकि स्मिथ की कप्तानी में मैंने सिर्फ एक मैच खेला है। मैंने धोनी भाई की कप्तानी में काफी मैच खेले हैं और हम सभी जानते हैं कि वह विश्व स्तरीय अगुआ हैं। मेरे ख्याल से किसी को भी स्मिथ और धोनी की कप्तानी की तुलना नहीं करना चाहिए। धोनी अभी भी विश्व स्तरीय खिलाड़ी हैं।’

ता दें कि आईपीएल 2016 सीजन में शामिल हुई राइजिंग पुणे सुपरजाएंट टीम के लिए उसका पहला सत्र काफी खराब रहा था। राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपरकिंग्स टीमों के स्पॉट फिक्सिंग मामले में दो साल के लिए प्रतिबंधित होने के बाद दो नई टीमें गुजरात लॉयंस और राइजिंग पुणे सुपरजाएंट आईपीएल में शाामिल हुई थीं। राइजिंग पुणे सुपरजाएंट की टीम कागत पर तो बहुत मजबूत थी, टीम में बड़े-बड़े नाम थे, अंतराराष्ट्रीय क्रिकेट के साथ ही आईपीएल में भी बेहतरीन ट्रैक रिकॉर्ड रखने वाला महेंद्र सिंह धोनी जैसा कप्तान था, ऐसे में इस टीम से जिस प्रकार के प्रदर्शन की उम्मीद थी रिजल्ट उसके बिल्कुल विपरीत था। हालांकि, केविन पीटरसन, फॉफ डु प्लेसिस, मिचेल मार्श और स्टीव स्मिथ जैसे खिलाड़ियों का टूर्नामेंट के बीच में चोटिल होना टीम के लिए महंगा साबित हुआ था। आईपीएल में सीएसके की तरफ से बेहतरीन गेंदबाजी करने वाले आर अश्विन वही कारनामा आरपीएस के लिए नहीं दोहरा सके थे और 14 मैचों में सिर्फ 10 विकेट हासिल कर पाए थे। महेंद्र सिंह धोनी भी बैटिंग और कप्तानी दोनों में कुछ खास नहीं कर सके थे।

SI News Today

Leave a Reply