Saturday, May 18, 2024
featuredदेश

अमेरिका में भारतीयों की नौकरियों पर खतरा: सुषमा स्वराज

SI News Today

केंद्र सरकार ने गुरुवार को स्वीकार किया कि वीजा प्रतिबंधों के कारण अमेरिका में काम करने वाले भारतीयों के लिए अनिश्चितता का माहौल है। उनकी नौकरियों पर खतरा मंडरा रहा है। इसके साथ ही दावा किया कि वह भारतीयों के हितों की रक्षा के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में पूरक प्रश्नों के जवाब में कहा कि अमेरिका में भारतीयों के हितों पर सदस्यों की चिंता वाजिब है। अमेरिका में भारतीय कामगारों के लिए अनिश्चितता का माहौल है। उनकी नौकरियों पर खतरा मंडरा है। लेकिन गौर करने वाली बात है कि अमेरिका ने अब तक इस संबंध में कोई नीति घोषित नहीं की है। इस संबंध में अमेरिकी कांग्रेस में चार विधेयक पेश किए गए हैं, जो पारित नहीं हुए हैं। इनके अलावा अमेरिकी कांग्रेस में नौ अन्य विधेयक लाए जाने की चर्चा है। इनमें से छह विधेयक ठेके पर काम के संबंध में और तीन प्रवासियों से संबंधित होंगे।

स्वराज ने कहा, सरकार अमेरिका के साथ इस मुद्दे को उच्च स्तर पर उठा रही है। भारत तर्क और आंकड़ों के आधार पर अमेरिका को यह समझाने की कोशिश कर रहा है कि यह परस्पर लाभ का मामला है। यदि किसी नीति से भारतीयों के हित प्रभावित होते हैं तो अमेरिका को भी नुकसान होगा।

कई स्तर पर हुई बात
विदेशमंत्री ने कहा, विदेश सचिव और वाणिज्य सचिव ने अमेरिका जाकर कैबिनेट मंत्रियों ,वरिष्ठ पदाधिकारियों तथा कांग्रेस के नेतृत्व के साथ बैठकें की हैं। इन चचार्ओं में भारत ने अमेरिका प्रशासन को अपने नागरिकों के हितों तथा चिंताओं के बारे में अवगत कराया है। साथ ही भागीदारी के परस्पर लाभदायक स्वरूप को रेखांकित किया है। उन्होंने कहा कि भारतीय कंपनियों ने अमेरिका में न केवल बड़ा निवेश किया है, बल्कि अमेरिकी नागरिकों को रोजगार भी दिया है।

SI News Today

Leave a Reply