Tuesday, November 22, 2022
featuredदेश

आज होगा तय कौन होगा UP का CM,इस रेस में मनोज सिन्हा सबसे आगे

SI News Today

यूपी में भाजपा सरकार की बागडोर संभालने वाले मुख्यमंत्री के नाम पर शनिवार को फैसला किया जाएगा। हालांकि मुख्यमंत्री पद की दौड़ में केेंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा सबसे आगे माने जा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक नाम का औपचारिक ऐलान होना बाकी है। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक मनोज सिन्हा के नाम पर पीएमओ कार्यालय ने मुहर लगा दी है, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

विधायक चुनेंगे नेता: शनिवार को लखनऊ के लोकभवन में शाम 4.30 बजे होने वाली भाजपा विधायक दल की बैठक में पार्टी के विधायक अपने नेता का चुनाव करेंगे। इसके बाद ही राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया जाएगा।

रविवार को शपथ ग्रहण: 19 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में लखनऊ के स्मृति उपवन में दोपहर 2.15 बजे शपथ ग्रहण समारोह होगा। पहले यह समारोह शाम को 4.30 बजे होना था। लेकिन शुक्रवार शाम को एसपीजी अधिकारियों की बैठक के बाद इसे बदल दिया गया।

दिनभर अटकलें : सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय नेतृत्व ने मुख्यमंत्री का नाम पहले से तय कर लिया है और इस पर विधायक दल की मुहर लगाई जाएगी। मुख्यमंत्री पद के लिए मनोज सिन्हा के अलावा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य का नाम भी सियासी गलियारों में चर्चा में रहा। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर योगी आदित्यनाथ, दिनेश शर्मा और राम लाल आदि के नामों की भी अटकलें लगाई जाती रहीं।

आज आएंगे प्रेक्षक: शनिवार को होने वाली विधायक दल की बैठक में दिल्ली से केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव भूपेन्द्र यादव प्रेक्षक के तौर पर भेजे जा रहे हैं। ये दोनों प्रेक्षक शनिवार को सुबह लखनऊ पहुंचेंगे। विधायकों द्वारा अपना नेता चुने जाने के बाद रविवार को मुख्यमंत्री और कुछ मंत्री शपथ लेंगे।

दिग्गज रहेंगे मौजूद: समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, केन्द्रीय लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री कलराज मिश्र तथा यूपी के अन्य केन्द्रीय मंत्री भी मौजूद रहेंगे।
तैयारियां तेज: प्रशासन ने शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां शुरू कर दी हैं।

भाजपा के सभी 312 विधायकों को फोन करके पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पर बुलाया गया है। उसके बाद इन विधायकों को मुख्यालय से सटे हुए लोकभवन ले जाया जाएगा। मुख्यालय से सूचना मिलते ही विधायक अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों से लखनऊ की ओर कूच कर गए हैं। कुछ विधायक तो देर रात लखनऊ आ जाएंगे तो ज्यादातर शनिवार की सुबह पहुंचेंगे।

मंत्री पद के लिए प्रयास तेज: कई विधायकों ने मुख्यमंत्री के साथ मंत्री पद की शपथ लेने के लिए अपने प्रयास तेज कर दिए हैं। विधायक मंत्री बनने के लिए आरएसएस पदाधिकारियों का दरवाजा खटखटा रहे हैं। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि मुख्यमंत्री के साथ रविवार को शपथ ग्रहण समारोह में कितने मंत्री शपथ लेंगे।

यूपी की 16वीं विधानसभा का सफर 17 मार्च को खत्म हो गया। राज्यपाल राम नाईक ने विधानसभा को भंग कर दिया है। विधानसभा की उम्र कार्यकाल से नौ दिन ज्यादा रही। एयरपोर्ट के पास कांशीराम स्मृति उपवन में रविवार दोपहर होने वाले शपथ ग्रहण समारोह के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। इसके लिए दो मंच भी बनाए जाएंगे।

शुक्रवार को देर शाम रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा बनारस पहु्ंचे तो माहौल काफी बदला-बदला था। जिले के सभी बड़े अफसर उनसे मिलने पहुंचे। वहां मौजूद गाजीपुर के लोगों ने कहा कि वे 19 मार्च को लखनऊ जाने की तैयारी कर रहे हैं। मुख्यमंत्री बनने के सवालों पर मनोज सिन्हा के चेहरे पर मुस्कान थी। लेकिन उन्होंने कहा कि रेलवे में बड़े आनंद से काम कर रहा हूं और संचार में मेरा बड़ा मन लगता है।

SI News Today

Leave a Reply