Sunday, May 19, 2024
featuredदेशराज्य

ऊर्जा मंत्रालय ने गर्मी में पूर्णतः बिजली सप्लाई के लिए दिया आश्वासन

SI News Today

मौसम विभाग ने इस बार ज्यादा गर्मी पड़ने का अनुमान जताया है. इस पूर्वानुमान के मद्देनजर ऊर्जा मंत्रालय ने गर्मियों के मौसम में देश में विशेष रूप से उत्तरी क्षेत्र में बिजली आपूर्ति की स्थिति और विभिन्न सुविधाओं की तैयारी की समीक्षा की है. ऊर्जा मंत्रालय के सचिव पी के पुजारी की अध्यक्षता में हुई बैठक में राज्य सरकारों के प्रतिनिधि, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के वैज्ञानिक और राज्यों के बिजली बोर्डों के अधिकारी शामिल हुए.

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार मार्च से मई 2017 के दौरान तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है. हाल ही में मार्च के आखिरी सप्ताह में देश के बड़े हिस्से में तापमान सामान्य से 4-7 डिग्री सेल्सियस अधिक था, जिसके कारण कई क्षेत्रों में भीषण गर्मी की लहर देखी गई. गर्मी के मौसम में बिजली की सप्लाई पर असर न पड़े,इसके लिए प्रत्‍येक राज्‍य, क्षेत्र और अखिल भारतीय स्‍तर पर बिजली की मौजूदा मांग और भविष्य में बढ़ने वाली मांग की समीक्षा की गई.

उत्‍तरी क्षेत्र में बिजली की मांग अप्रैल से सितंबर, 2017 की अवधि में 56 गीगा वाट तक बढ़ गई. दक्षिण क्षेत्र में बिजली की मांग 42GW तक हो चुकी है, जबकि पश्‍चिमी क्षेत्र में इसने 50 गीगा वाट का स्‍तर छू लिया है. अप्रैल-जून के बीच इसमें 46 गीगा वाट की गिरावट आएगी. पूरे भारत में गर्मी के दौरान बिजली की सर्वाधिक मांग 165 गीगा वाट तक पहुंचने की संभावना है.

SI News Today

Leave a Reply