Friday, November 25, 2022
featuredदेश

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह नहीं मनाएंगे होली, सुकमा नक्सली हमले में दिया शहीदों को श्रधांजलि

SI News Today

सुकमा हमले में शहीद जवानों के शोक में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह इस बार होली नहीं मनाएंगे. शनिवार को उन्होंने रायपुर में शहीदों को श्रद्धांजलि दी थी. इसके साथ ही उन्होंने ने CRPF अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक में इस हमले को कायराना करार देते हुए माओवादियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए. इस हमले से दुखी राजनाथ सिंह ने इस बार होली न मनाने का ऐलान किया है.

एक करोड़ मुआवजे का ऐलान

इस दौरान गृहमंत्री ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के बस्तर में हुई जवानों की ये शहादत अनमोल है. उन्होंने शहीद जवानों के परिवार को एक करोड़ रुपये बतौर अनुकंपा देने का ऐलान किया. रायपुर में राजनाथ सिंह ने CRPF के शहीद जवानों को श्रद्धा सुमन अर्पित किए. इस दौरान उनके साथ राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनके मंत्रिमंडल के सारे सदस्य मौजूद थे.

जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी

राजनाथ ने संवाददाताओं से कहा कि जवानों की शहादत को व्यर्थ नहीं होने दिया जायेगा. नक्सलियों ने हताशा के चलते इस घटना को अंजाम दिया है. नक्सली पिछले कुछ समय से बचाव की मुद्रा आ गये हैं. इसके चलते उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया.

सुकमा हमले में 12 जवान शहीद

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में नक्सली हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के 12 जवान शहीद हो गए जबकि तीन अन्य जवान घायल हो गए हैं. सुकमा जिले के भेज्जी थाना क्षेत्र के घने जंगलों में नक्सलियों ने सीआरपीएफ के गश्ती दल पर घात लगाकर हमला कर दिया. हमले में सीआरपीएफ की 219वीं बटालियन के 12 जवान शहीद हो गए, जबकि तीन अन्य जवान घायल हो गये.

सुकमा में नक्सली हमला, CRPF के 12 जवान शहीद

पीएम मोदी ने दुख जताया

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नक्सलवादियों के हमले में सीआरपीएफ के जवानों की मौत पर दुख व्यक्त किया था. मोदी ने ट्वीट किया, ‘सुकमा में सीआरपीएफ जवानों की मौत पर दुखी हूं. शहीदों को श्रद्धांजलि और उनके परिजन के प्रति संवेदना. प्रार्थना है कि घायल शीघ्र स्वस्थ हों.’ उन्होंने कहा, ‘गृहमंत्री राजनाथ सिंह जी से सुकमा के हालात पर बात की है. वह हालात का जायजा लेने सुकमा जा रहे हैं.’

सोनिया गांधी ने हमले को नृशंस और कायरतापूर्ण कृत्य बताया

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सली हमले में सीआरपीएफ के 12 जवानों के मारे जाने की घटना की कड़ी निंदा की और इसे नृशंस और कायरतापूर्ण कृत्य बताया. सीआरपीएफ जवानों को उनके सर्वोच्च और अविस्मरणीय बलिदानों के लिए सलाम करते हुये गांधी ने कहा कि पीड़ितों के परिवार के प्रति उनकी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं है. उन्होंने एक बयान में कहा, ‘भारत आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एकजुट है और सरकार को भारत में आतंक फैलाने वाली ताकतों को मुंहतोड़ जवाब देना चाहिये.’ नक्सलवादियों ने आज माओवाद से प्रभावित सुकमा जिले में सुरक्षा बलों के काफिले पर हमला किया, जिसमें 12 सीआरपीएफ कर्मी मारे गए. नक्सलियों ने जवानों के हथियार भी लूट लिये. इस हमले में चार सुरक्षाकर्मी घायल हो गये और उनमें से दो की हालत गंभीर है

SI News Today

Leave a Reply