Friday, February 23, 2024
featuredदेश

गरीब लोगों तक सस्ती मेडिकल सुविधाएं पहुंचाना चाहते हैं पीएम नरेंद्र मोदी

SI News Today

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चिकित्सा उपकरणों के लिए दूसरे देशों पर निर्भरता को कम करने पर आज (25 मई, 2017) जोर दिया ताकि लोगों के लिए इलाज को सस्ता बनाया जा सके। टाटा मेमोरियल सेंटर के सामाजिक सेवा के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर एक पुस्तक का विमोचन करने के बाद मोदी ने कहा, ‘70 फीसदी चिकित्सा उपकरण विदेशों से आयात किए जाते हैं। इस स्थिति को बदला जाना चाहिए क्योंकि इससे इलाज काफी महंगा पड़ता है।’ पीएम मोदी मुंबई में आयोजित कार्यक्रम को नई दिल्ली से वीडियो कान्फ्रेंस के जरिए संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति का उद्देश्य वहन करने योग्य स्वास्थ्य देखभाल सुनिश्चित करना है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हम राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति लेकर आए हैं। इसके साथ ही हमारा लक्ष्य सभी के लिए सस्ती स्वास्थ्य देखभाल सुनिश्चित करना है।’ उन्होंने कहा कि सरकार का उद्देश्य लोगों के सभी वर्गों तक अच्छी चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराना है और इसके तहत देशभर में नये एम्स और मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। मोदी ने कहा, ‘हम देशभर में नए एम्स और मेडिकल कॉलेज लेकर आ रहे हैं। हम चाहते हैं कि प्रत्येक नागरिक की अच्छे इलाज तक पहुंच हो।’

‘समय के रेत पर पैरों के अमिट निशान’ शीर्षक वाली पुस्तक का विमोचन करने के बाद मोदी ने कहा, ‘मैं टाटा मेमोरियल अस्पताल को उनकी प्लेटिनम जुबली पर बधाई देता हूं। मैं इस किताब का विमोचन करके खुश हूं।’ किताब में अस्पताल की यात्रा के बारे में बताया गया है और उसकी वृद्धि तथा विकास को रेखांकित किया गया है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘75 वर्ष बाद इस संस्थान को शिक्षा, मानव संसाधन विकास और अनुसंधान के लिए जाना जाता है। भारत में बहुत कम अस्पतालों ने लोगों की बीमारियों के लिए इतना कुछ किया है।’ कैंसर को इस समय की सबसे बड़ी चुनौती बताते हुए उन्होंने कहा कि एक साझा मंच बनाना अहम है जहां मरीजों को सस्ता इलाज मिले। उन्होंने कहा, ‘कैंसर किसी के भी लिए ‘अग्नि परीक्षा’ से कम नहीं है।’ पीएम मोदी ने कहा कि कैंसर के उपचार के लिए टाटा मेमोरियल अस्पताल का योगदान प्रशंसनीय है। मैं गरीबों की सेवा करने के लिए रतन टाटा और टाटा मेमोरियल अस्पताल को बधाई देता हूं।

SI News Today

Leave a Reply