Sunday, April 14, 2024
featuredदेश

नौकरी पाने के लिए सेना को किया गुमराह

SI News Today

सेना में नौकरी पाने के लिए हरियाणा के 50 युवकों ने खुद को गुजरात का रहने वाला बताया। आरोपी सेना को गुमराह कर गुजरात के कोटे पर नौकरी पाना चाहते थे। पुलिस ने इस आरोप में करीब 30 युवकों को गिरफ्तार किया है। जबकि 20 युवक अभी भी फरार हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान हरियाणा के रहने वालों के रूप में हुई। पुलिस फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है।

शुक्रवार को इससे जुड़ी टाइम्स ऑफ इंडिया ने रिपोर्ट की थी। उसमें बताया गया था कि हरियाणा के लोगों ने सिख रेजिमेंट में शामिल होने के लिए खुद को गलत तरीके से सिख के रूप में पेश किया। अब यह सामने आ रहा है कि उन्हीं में से कुछ ने गुजरात के निवासी होने का दावा कर सेना में कोटा हासिल करने की कोशिश की।

रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा के करीब 50 युवकों ने जुलाई 2015 में खुद को मूल रूप से गुजरात का रहने वाला बताया। राजकोट पुलिस की जांच-पड़ताल के बाद उन युवकों में से 30 को गिरफ्तार किया गया। जबकि 20 चकमा देकर फरार हो गए। उनमें से अधिकतर की पहचान हरियाणा में हिसार, जींद और फतेहाबाद के रहने वालों के रूप में हुई है।

हैरान करने वाली बात है कि सेना में इंफैंट्रीमेन के पद पर नौकरी पाने के लिए गुजरात के कोटे पर वे सभी खुद को कच्छ का रहने वाला बताने में सफल भी रहे थे। राजकोट क्राइम ब्रांच इस मामले में फरार चल रहे युवकों की धरपकड़ के लिए हरियाणा में दबिश दे रही है।

राजकोट क्राइम ब्रांच के इंचार्ज इंस्पेक्टर एचएम गाधवी ने इस संबंध में बताया कि जामनगर में हुई भर्ती रैली में आरोपियों ने खुद को गुजरात का रहने वाले के रूप में पेश किया। उन्हें लगा था कि सेना में इस राज्य के कोटे पर ज्यादा लोग नहीं आवेदन करेंगे।

SI News Today

Leave a Reply