Friday, January 27, 2023
featuredदेश

पाकिस्तान में लापता निजामुद्दीन दरगाह के दोनों मौलवियों का अब तक पता नहीं चला

SI News Today

पाकिस्तान ने शुक्रवार को भारत को बताया कि वह देश में लापता हुए दो भारतीय उलेमा के मामले पर गंभीरता से ध्यान दे रहा है. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि उन्होंने मामला पाकिस्तान सरकार के सामने उठाया है. नई दिल्ली के निजामुद्दीन दरगाह के सज्जादानशीन 80 साल के सैयद आसिफ निजामी और नाजिम निजामी पाकिस्तान में लापता हो गए हैं. दोनों दाता दरबार की जियारत के लिए लाहौर गए थे.

पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता नफीस जकरिया ने कहा, ‘अब तक लापता भारतीय उलेमा का कोई पता नहीं चला है. हम इस मामले में स्वयं ही बहुत ही सक्रिय हैं.’ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत सरकार ने पाकिस्तान के सामने मामला उठाया है.

सुषमा ने पाकिस्तान के समक्ष उठाया मसला

 सुषमा ने ट्विटर पर लिखा, ‘हमने पाकिस्तान सरकार के सामने मामला उठाया है और उनसे दोनों भारतीय नागरिकों से जुड़ी नवीनतम सूचना देने का अनुरोध किया है. दोनों कराची हवाईअड्डे पर उतरने के बाद से लापता हैं.’ सैयद आसिफ निजामी और उनके भतीजे नाजिम अली निजामी कराची हवाईअड्डे से लापता हो गए. सैयद आसिफ निजामी हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह के सज्जादानशीन हैं.

नयी दिल्ली स्थित आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान ने भारत को बताया है कि वह मामले पर अपने विधि प्रवर्तन एजेंसियों के साथ ‘पूरी गंभीरता से’ ध्यान दे रहा है.

सुषमा ने कहा, ‘80 साल के भारतीय नागरिक सैयद आसिफ निजामी और उनके भतीजे नाजिम अली निजामी 8 मार्च, 2017 को पाकिस्तान गए थे.’जकरिया ने साथ ही कहा, ‘हमने सभी संबंधित विभागों से मामले पर ध्यान देने को कहा है.’उन्होंने कहा कि विदेश कार्यालय को भारत सरकार से दोनों उलेमा का पता लगाने का अनुरोध मिला है.

निजामुद्दीन दरगाह और दाता दरबार के उलेमा का एक दूसरे के दरगाहों का दौरा एक नियमित परंपरा है.

SI News Today

Leave a Reply