Friday, June 21, 2024
featuredदेश

पीएम बनने के बाद पहली बार पहुंचे सूरत, 11 किलोमीटर का मेगा शो

SI News Today

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार की शाम दो दिवसीय गुजारत दौरे के तहत सूरत पहुंचे जहां एक रोड शो में शामिल होने से पहले विशाल जनसमूह ने उनका भव्य स्वागत किया। मोदी सूरत में रोशनी से जगमगाती सड़क पर दोनों ओर अपार भीड़ के बीच 11 किलोमीटर लंबा रोड शो कर रहे हैं। सूरत हवाई अड्डे से शुरू हुआ यह रोड शो सर्किट हाउस पर समाप्त होगा, जहां प्रधानमंत्री रात गुजारेंगे। रोड शो के पूरे मार्ग पर भाजपा की उपलब्धियों का वर्णन करने वाली 11 किलोमीटर लंबी साड़ी बिछाई गई है। मोदी के इस रोड शो को गुजरात में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल फूंकने जैसा माना जा रहा है। गुजरात दौरे से ठीक पहले मोदी ने ट्वीट किया, “विभिन्न कार्यक्रमों में उपस्थित सभी लोगों का आभार। ऊर्जावान शहर सूरत की यात्रा अति हर्ष की बात है।”

सोमवार को प्रधानमंत्री 400 करोड़ रूपये की लागत वाले किरण मल्टी सुपर स्पेशिएलिटी हास्पिटल एंड रिसर्च सेंटर का उद्घाटन करेंगे जिसका निर्माण एक ट्रस्ट ने किया है। मोदी उसके बाद जिले के इच्छापुर गांव में हीरा बोर्से एसईजेड जाएंगे जहां वह हरि कृष्ण एक्सपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड की हीरा पालिशिंग इकाई का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री वहां से तापी जिले के बीजापुर गांव जाएंगे जहां वह सूरत जिला सहकारी दुग्ध उत्पादन संघ के मवेशी चारा संयंत्र और आइसक्रीम संयंत्र का उद्घाटन करेंगे। सूरत जिला सहकारी दुग्ध उत्पादन संघ सुमुल डेयरी के नाम से लोकप्रिय है। मोदी इसके साथ ही नवा पारदी में डेयरी उत्पाद संयंत्रों के लिए रिमोट से आधारशिला रखेंगे। सुमुल डेयरी के अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी वहां पर एक सभा को भी संबोधित करेंगे।

इसके बाद मोदी केंद्र शासित प्रदेश दादर एवं नगर हवेली स्थित सिलवासा जाएंगे जहां वह नयी परियोजनाओं का उद्घाटन करने और लाभार्थियों को सहायता वितरित करने के अलावा एक सभा को भी संबोधित करेंगे। वहां पर केंद्र की विभिन्न योजनाओं के करीब 21000 लाभार्थियों को सहायता किट का वितरण किया जाएगा।

मोदी इसके बाद सौराष्ट्र के बोटाद जाएंगे जहां वह बोटाद और आसपास के जिलों के लिए साउनी परियोजना के प्रथम चरण का उद्घाटन करेंगे। वह परियोजना के दूसरे चरण की आधारशिला भी रखेंगे। गत वर्ष अगस्त में मोदी ने महत्वाकांक्षी सौराष्ट्र नर्मदा अवतरण सिंचाई (साउली) परियोजना के प्रथम चरण का जामनगर से उद्घाटन किया था। यह परियोजना चार चरणों में विभाजित है और इसके तहत गुजरात सरकार की योजना सौराष्ट्र क्षेत्र के 115 बांधों को नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बांध के अतिरिक्त पानी से भरने की है।

SI News Today

Leave a Reply