Friday, February 23, 2024
featuredदेश

राजद के बजाय पीएम को खत ल‍िख रही हैं सो‍न‍िया गांधी…..

SI News Today

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर निवेदन किया था कि केंद्र की एनडीए सरकार लोकसभा में बहुमत के साथ बैठी है और वे अपनी इस बहुमत का इस्तेमाल करते हुए काफी समय से लंबित पड़े महिला आरक्षण बिल को पास कराएं जिसमें कांग्रेस उनका पूरा समर्थन करेगी। सोनिया गांधी के इस निवेदन का जवाब देते हुए बीजेपी ने कहा कि सोनिया को अपने सहयोगी दलों जैसे कि आरजेडी और समाजवादी पार्टी को भी इस बिल को पास कराने के लिए पत्र लिखना चाहिए जो कि लोकसभा में प्रस्ताव को विरोध करते हैं।

गुरुवार को बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि सोनिया गांधी को पत्र लिखकर या बात करके यह पता लगाना चाहिए कि उनके सहयोगी लालू प्रसाद यादव और मुलायम सिंह यादव ने क्यों महिला आरक्षण बिल का रोका था, जब यूपीए की केंद्र में सरकार थी। मोदी के नेतृत्व वाली सरकार 2019 लोकसभा के चुनावों से पहले इस बिल को पास कराने की योजना बना रही है। अपने पत्र में सोनिया गांधी ने पीएम को लिखा था कि कांग्रेस पार्टी हमेशा इस बिल को पास कराने के पक्ष में रही है क्योंकि यह एक ऐसा कदम है जो कि महिला सश्क्तिकरण में एक महत्वपूर्ण योगदान देगा।

बता दें कि इस बिल को 2010 में राज्यसभा में पास कर दिया गया था जब केंद्र में यूपीए की सरकार थी। इस बिल को लोकसभा में लाया गया तो मुलायम सिंह यादव और लालू प्रसाद यादव ने इसका कड़ा विरोध किया था। उस समय भी आरजेडी और समाजवादी पार्टी कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन दे रही थीं लेकिन उन्होंने इस बिल पर कड़ा विरोध जताया था। मनमोहन सिंह की सरकार ने इस बिल को लोकसभा में पास कराने की काफी कोशिशें की लेकिन वे कामयाब नहीं हो पाए। आरजेडी और सपा के अलापा तृणमूल कांग्रेस ने भी महिला आरक्षण बिल का विरोध किया था।

SI News Today

Leave a Reply