Saturday, May 18, 2024
देश

संसद में शिवसेना सांसद का यू-टर्न, गांधी और मोदी से अपनी तुलना कर बोले- मैंने सिर्फ धक्‍का दिया था

SI News Today

एयर इंडिया कर्मचारी की पिटाई के आरोपी सांसद रवींद्र गायकवाड़ ने गुरुवार (6 अप्रैल) को लोकसभा में इस विवाद पर बयान दिया। शिव सेना सांसद ने लोकसभा में अपनी बात रखते हुए कहा कि उन्‍होंने (एयर इंडिया कर्मचारियों) ने हाथापाई शुरू की। गायकवाड़ ने मीडिया से बातचीत में स्‍पष्‍ट तौर पर कहा था कि उन्‍होंने एयर इंडिया कर्मचारी को चप्‍पलों से पीटा है, मगर गुरुवार को उन्‍होंने सिर्फ धकेलने की बात कही। गायकवाड़ ने सदन में कहा, ”मैंने क्‍या गुनाह किया है जो उसकी जांच किए बिना मीडिया ट्रायल शुरू है। मेरा बिजनेस क्‍लास टिकट था, मगर मुझे इकॉनमी में बिठाया गया। एक सीनियर सिटीजन को मेरा सीट दिया गया। ए‍यर इंडिया जो कह रहा है कि सीट के लिए मैंने झगड़ा किया, मैंने मारा, ये गलत बात है। दिल्‍ली में उतरते समय मैंने क्रू से पूछा कि मुझे कंप्‍लेंट बुक दो। उन्‍होंने कहा कि यहां कंप्‍लेंट बुक नहीं है, उसने मेरी कंप्‍लेंट लिख कर ले ली। उसके बाद एक अफसर आया, उसने पूछा कि आप कौन हो, क्‍या प्रॉब्‍लम है। मैंने कहा कि क्‍या आप सीएमडी हो, आपके ड्रेस कोड से लग रहा है कि बैग उठाने वाले हो।” गायकवाड़ ने कहा, ”45 मिनट के बाद अफसर आया। मैंने कहा कि शांति से बात कीजिए। फिर भी उनका चिल्‍लाना नहीं रुका। उल्‍टा उसने पूछा कि आप क्‍या हो। तो मैंने शांति से पूछा कि आप क्‍या हो, तो उसने कहा कि मैं एयर इंडिया का बाप हूं।”

गायकवाड़ ने सदन में आगे कहा, ”मैंने बताया कि मैं एमपी हूं। तो उसने चिल्‍लाकर कहा कि एमपी हुआ तो क्‍या हुआ, तू नरेंद्र मोदी है क्‍या? यह बोलकर उन्‍होंने मेरी कॉलर पकड़ कर ढकेलने की कोशिश की। इस अपमानजनक व्‍यवहार से मुझे गुस्‍सा आया और मैंने उसे ढकेल दिया। देश के सदन के सदस्‍य के साथ बदसलूकी की, अभद्र भाषा का इस्‍तेमाल किया गया।”
गायकवाड़ ने एयर इंडिया की सीएमडी को हटाए जाने की भी मांग की। उन्‍होंने कहा, ”दुर्भाग्‍य की बात ये है कि ये दुर्व्‍यवहार करने वाले आज बेगुनाह बनकर घूम रहे हैं और मेरे उड़ने के अधिकारों पर पाबंदी लगा दी है। मेरे अधिकारों का हनन हो रहा है।”

शिव सेना सांसद ने कहा, ”मैं गृहमंत्री जी से विनती करता हूं कि मुझपर एफआईआर दर्ज कराई गई है। अटेम्‍प्‍ट टू मर्डर का आरोप लगा है, क्‍या हथियार था मेरे पास, एक सांसद के ऊपर हत्‍या की कोशिश का आरोप? मेरी विनती है कि धारा 308 हटाई जाए। हमने सुना था कि अंग्रेज अंधा कानून चलाते थे। राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी को ट्रेन से सामान सहित फेंकने वाले अंग्रेज, नरेंद्र मोदी जी को वीजा नकारने वाली अमरीका और एक सुर से मुझपर प्रतिबंध लगाने वाली विमान कंपनियां, इनमें एकतरफा अन्‍याय प्रक्रिया की पात्रता है।”

SI News Today

Leave a Reply