ताज़ा खबर:-

सोशल मीडिया के जरिए कश्मीरी युवाओं को उकसा रहा है पाकिस्तान : जितेन्द्र सिंह

सोशल मीडिया के जरिए कश्मीरी युवाओं को उकसा रहा है पाकिस्तान : जितेन्द्र सिंह

सोशल मीडिया के जरिए कश्मीरी युवाओं को उकसा रहा है पाकिस्तान : जितेन्द्र सिंह

केन्द्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह का कहना है कि पाकिस्तानी एजेंसियां सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार के माध्यम से कश्मीर में युवाओं को उकसा रही हैं. प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री सिंह ने सिविल सोसायटी और जम्मू-कश्मीर सरकार से कहा कि वे युवाओं का परिचय वास्तविकता से कराएं, ताकि वे कुछ लोगों के झूठे प्रचार के उकसावे में ना आएं.

मंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘पाकिस्तानी एजेंसियां सोशल मीडिया पर झूठे प्रचार के माध्यम से कश्मीर घाटी के युवाओं को उकसाने के लिए कर रहे हैं. मैं यहां के युवाओं से अपील करता हूं कि वे ऐसे दुष्प्रचार के बहकावे में ना आएं.’ उन्होंने यह बात ऐसे वक्त में कही है, जब पिछले कुछ दिनों से घाटी में जन-जीवन प्रभावित है. सुरक्षा बलों के साथ झड़प में नागरिकों की मौत के मामले में कुछ अलगाववादी नेताओं द्वारा कथित रूप से प्रदर्शन के लिए भड़काया जा रहा हैं.

अलगाववादी अपने हितों की राजनीति करते हैं

सिंह ने कहा कि यह अलगाववादी अपने हितों की राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘कुछ नेता हैं जो कश्मीर घाटी के युवाओं को पथराव और हिंसा जैसी गतिविधियों में शामिल होने के लिए उकसा रहे हैं. लेकिन ये नेता अपने बच्चों को आईएएस आईपीएस अफसर बनाना चाहते हैं. वे चाहते हैं कि उनके बच्चे अच्छे स्कूलों में पढ़ें. मुझे लगता है कि ये नेता अपने हितों की राजनीति कर रहे हैं.’ जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख एसपी वैद्य ने गुरुवार को सिंह से भेंट की और उन्हें घाटी की सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी दी. सिंह जम्मू-कश्मीर के उधमपुर लोकसभा सीट से सांसद हैं.

जम्मू कश्मीर पुलिस ने गुरुवार को कहा कि कश्मीर घाटी में मुठभेड़ स्थलों पर सुरक्षा बलों पर पथराव करने के लिए जा कर युवा आत्महत्या कर रहे हैं और उसने उनसे इस प्रकार की गतिविधियों से दूर रहने की अपील की. पुलिस महानिदेशक एस पी वैद ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘मुठभेड़ में सुरक्षा बल एवं पुलिस भी खुद को गोलियों से बचाने के लिए बुलेटप्रूफ वाहन या किसी मकान का सहारा लेती है. मुठभेड़ स्थलों पर जा कर युवा आत्महत्या कर रहे हैं.’

उन्होंने युवाओं से मुठभेड़ स्थलों पर नहीं आने की अपील करते हुए कहा कि घाटी में शांति के विरोधी तत्व अपने लघुकालीन राजनीतिक हितों को साधने के लिए उन्हें गुमराह कर रहे हैं और उनका दुरुपयोग कर रहे हैं.

leave a comment

Create Account



Log In Your Account



%d bloggers like this: