Thursday, June 20, 2024
featuredदेश

कपल ने वोटर आईडी कार्ड की तरह छपवाया शादी का न्योता!

SI News Today

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव होने में एक महीने से भी कम वक्त बचा है। ऐसे में शादी के बंधन में बंधने जा रहे एक जोड़े ने लोगों को सोशल मैसेज देने की कोशिश की है। इस जोड़े की मंशा है कि इस बार होने वाले विधानसभा चुनावों में सभी लोग अपने मताधिकार का प्रयोग करें और वोट डालें। लोगों में जागरूकता फैलाने की चाहत रखने वाला ये जोड़ा कर्नाटक के हावेरी जिले के हंगल में रहता है। इन दोनों ने अपनी शादी के कार्ड को वोटर आईडी कार्ड की तर्ज पर छपवाया है। हंगल में रहने वाले सिद्दपा डोड्डाचिकन्न्नवर और उनकी होने वाली पत्नी ज्योति को उम्मीद है कि राज्य में 12 मई को होने वाले चुनावों में उनके दोस्तों और परिवार वालों को उनकी शादी के यूनी​क निमंत्रण से प्रेरणा मिलेगी। प्रेरणा पाकर वह जरूर वोट देने के लिए जाएंगे।

सिद्दपा, एक्टिविस्ट और गोवा में भारतीय रेलवे के कर्मचारी हैं। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि,’ मेरी शादी 27 अप्रैल को होने जा रही है। मैं आने वाले विधानसभा चुनावों का प्रचार और अपनी शादी से कन्नड़ संस्कृति के प्रचार का संदेश देना चाहता था। इसीलिए मैंने इस बारे में अपने दोस्त पुलिस कांस्टेबल करिबासप्पा गोंडी से चर्चा की। उन्होंने सुझाव दिया कि हमें विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए कुछ करना चाहिए। इसके बाद मैंने अपने दोस्त चन्नाबासप्पा की मदद ली। हमने साथ मिलकर वोटर आईडी कार्ड की तर्ज पर वेडिंग कार्ड डिजाइन किया। यहां तक कि फॉन्ट और स्टाइल भी समान ही है।’

इस जोड़े ने वोटर आईडी कार्ड की तर्ज पर शादी का कार्ड छपवाने के लिए जिला कलेक्टर की अनुमति भी मांगी थी। इस कार्ड को कपल की शादी के ​हिसाब से कस्टमाइज किया गया है। वेडिंग कार्ड में फोटो की जगह पर दोनों कपल की फोटो लगी है। कार्ड में यूनी​क सीरियल नंबर की जगह SJMRG27042018 डाला गया है। यह असल में जोड़े का नाम और उनकी शादी की तारीख है। वोटर के नाम की जगह को बदलकर जोड़े का नाम लिखा गया है। कार्ड में बाकायदे अपील की गई है कि ‘आपका वोट अमूल्य है।’ साथ में कार्यक्रम में आने वाले मेहमानों से भी कहा गया है कि ‘कृपया अपना वोट न बेचें।’। सिद्दपा ने अपनी शादी के लिए 1200 कार्ड छपवाए हैं। कपल का कहना है कि लोग उन पर वोटिंग की अपील वाले शादी के ​कार्ड छपवाने के लिए आशीर्वाद की वर्षा कर रहे हैं।

बता दें कि कर्नाटक में आगामी 12 मई को सभी 224 विधानसभा क्षेत्रों में वोटिंग होने वाली है। भारतीय जनता पार्टी और जनता दल सेकुलर और अन्य मिलकर कर्नाटक में सत्तारूढ़ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे। अरविन्द केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी इस दफे पहली बार दक्षिण भारत में चुनाव लड़ने जा रही है। 2018 के कर्नाटक के विधानसभा चुनावों के लिए कुल 56,696 पो​लिंग स्टेशन बनाए गए हैं। जबकि न​तीजों की घोषणा 15 मई को की जाएगी। कर्नाटक विधानसभा का चालू सत्र आगामी 28 मई को समाप्त हो रहा है।

SI News Today

Leave a Reply