Friday, February 23, 2024
featuredबिहार

लड़की के साथ गैंगरेप के बाद वीडियो किया वायरल…

SI News Today

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में चार युवाओं ने एक किशोरी के साथ कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने का मामला प्रकाश में आया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार ने आज बताया कि इस मामले में कटरा थाना में कल रात प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस ने आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि इस मामले में कुल सात लोगों, दुष्कर्म करने वाले चार युवाओं के साथ तीन अन्य व्यक्ति पर मामले की लीपापोती करने का आरोप है। इनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है। विवेक ने बताया कि कुछ लोगों को लापता आरोपियों के छुपने के ठिकानों के बारे पता लगाने के लिए हिरासत में लिया गया है। यह वारदात गत शनिवार की रात्रि में एक 14 वर्षीय किशोरी के साथ दशहरा मेले से अपने रिश्तेदार के घर लौटने के क्रम में कटरा थाना के नवादा गांव में घटी। आरोपी युवाओं ने उक्त किशोरी को जबरन एकांत स्थान में ले जाकर उसके साथ सामुहिक दुष्कर्म किया और उसका वीडियो लेकर उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

पटना में आज आयोजित एक कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोई ष्प्रतिक्रिया नहीं दी, लेकिन समाज कल्याण मंत्री मंजु वर्मा ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री को इस वारदात से अवगत कराया है और सरकार द्वारा कार्रवाई की जा रही है।भवन निर्माण मंत्री महेश्वर हजार ने इस वारदात की भर्त्सना करते हुए वादा किया कि सरकार आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्या सुषमा साहू ने इस वारदात पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि आयोग पीडिता के समर्थन में हस्तक्षेप करेगी। बिहार के पुलिस महानिदेशक पी के ठाकुर ने कहा कि इस मामले के आरोपियों की अतिशीघ्र गिरफ्तारी कर मामले का स्पीडी ट्रायल कर दोषियों को सजा दिलवायी जाएगी।

बिहार की राजग सरकार पर प्रहार करते हुए प्रदेश की प्रमुख विपक्षी पार्टी राजद की नेता और पूर्व मुख्यमंत्री राबडी देवी ने प्रदेश के कई भागों से इस तरह की वारदात की रिपोर्ट है, पर सरकार ‘कान में तेल डालकर’ सो रही है।मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार ने इस मामले में पुलिस पर त्वरित कार्रवाई नहीं करने के आरोप को गलत बताते हुए कहा कि वारदात के बाद पीडिता के परिजन मामले को गांव की पंचायत के समक्ष ले गए पर पुलिस द्वारा समझाने पर उन्होंने बीती रात्रि प्राथमिकी दर्ज करायी। उन्होंने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कराने के 24 घंटे के भीतर पीडिता की मेडिकल जांच के साथ आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है और उनसे पूछताछ जारी है।

SI News Today

Leave a Reply