Monday, March 4, 2024
featuredदिल्ली

ईसीबी ने मारे कई जगह छापे कपिल मिश्रा की शिकायत के बाद

SI News Today

दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्र की शिकायत पर भ्रष्टाचार निरोधक शाखा (एसीबी) का छापेमारी अभियान जारी है। शनिवार को भी शाखा ने कुछ जगहों पर छापेमारी की। कपिल को 19 मई को लोकायुक्त के पास बयान दर्ज कराने जाना है। इस बयान में कपिल के पुराने आरोपों पर भी चर्चा होने की संभावना है। शनिवार को हुई छापेमारियां गैरसरकारी संगठन के प्रतिनिधि से हुई पूछताछ के बाद की गई या फिर पीडब्लूडी मुख्यालय पर हुई छापेमारी के बाद मिले सबूत पर, इसको लेकर एसीबी अधिकारी अभी चुप हैं। एसीबी प्रमुख मुकेश कुमार मीणा भी यह मान रहे हैं कि फर्जीवाड़े में कई लोगों की संलिप्तता है, जिसकी जांच की जा रही है। मीणा अभी ज्यादा जानकारी नहीं दे रहे हैं। कपिल मिश्र के आरोपों के बाद साल 2015-16 के दौरान जिन तीन कंपनियों में घोटाले सामने आ रहे हैं  उनमें मेसर्स पवन कंस्ट्रक्शन, मेसर्स वेनू और मेसर्स कमल सिंह शामिल हैं। गुरुवार की शाम पीडब्लूडी मुख्यालय में हुई छापेमारी के दौरान इन तीनों कंपनियों से जुड़ी फाइलें एसीबी जब्त कर ले गई।

इस बीच गैरसरकारी संगठन से जुड़े राहुल शर्मा से भी पूछताछ की गई। अब एसीबी छापेमारी में मिले कागजात और शर्मा के बयान का मिलान कर कुछ ठिकाने पर छापेमारी कर यह पुख्ता करना चाह रही है कि जिन फर्मों के नाम पर बिल लगाए गए और जिन कार्यों के टेंडर दिखाए गए, वे बिल्कुल ही कागज पर थे या कुछ कंपनियां वास्तव में काम कर रही थीं। चूंकि शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि न ही वह फर्म असल में थी और न ही टेंडर के मुताबिक वहां सामान सप्लाई हुआ। यह पूरा मामला फर्जीवाड़ा जैसा है और इसी फर्जीवाड़े से जुड़े कुछ ठिकाने पर शनिवार को भी एसीबी ने दबिश दी। एसीबी 19 मई को कपिल के लोकायुक्त के पास बयान दर्ज कराने से पहले इस मामले में कुछ ठोस पता लगा लेना चाहती है ताकि अगर लोकायुक्त के पास इससे जुड़े कुछ और खुलासे हुए तो यह बताया जा सके कि जांच के दौरान क्या-क्या हाथ लगा है और आगे किन-किन बिंदुओं पर जांच चल रही है।

SI News Today

Leave a Reply