Saturday, April 13, 2024
featuredउत्तर प्रदेशलखनऊ

अखिलेश यादव ने खोला राज-

SI News Today

सैफई महोत्सव पंडाल में रामगोपाल यादव के 71 वें जन्मदिन के मौके पर यूपी के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक राज खोला। अखिलेश ने कहा, ‘पीएम मोदी ने मुझे बताया कि नेताजी आपसे नाराज हैं। नेताजी (मुलायम सिंह यादव) प्रोफेसर रामगोपाल यादव से नहीं मुझसे नाराज हैं, मैं यह बात जानता हूं।’ पूर्व सीएम ने कहा कि नेताजी मुझसे क्यों नाराज हैं, यह आप सबको पता है। अखिलेश ने इस दौरान रामागोपाल यादव के लिए कहा कि समाजवादी पार्टी की साइकिल बचाने का काम चाचा रामगोपाल ने किया। अखिलेश यादव ने नेताजी के लिए कहा कि समारोह में नेताजी भी आए होते तो इस समारोह का महौल ही कुछ और होता। अखिलेश यादव ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि पीएम लोगों को योग करवा रहे हैं, लेकिन लोगों को साइकिल चलानी चाहिए।

साइकिल चलाने से सेहत अच्छी रहती है। मैंने योग करने वाले लोगों को सुझाव दिया कि उनको भी साइकिल चलानी चाहिए। नीदरलैंड्स के पीएम को मिली साइकिल पर अखिलेश ने कहा कि देखो नीदरलैंड्स के पीएम ने भी मोदी को गिफ्ट में साइकिल ही दी। पीएम मोदी ने नीदरलैंड्स में भी साइकिल चलाई, लेकिन जब मैं कह रहा था तब नहीं चलाई। इसके बाद अखिलेश यादव ने योगी सरकार को भी चुनौती दे डाली। कहा, हमने 22 महीने में ही लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे बनवाया, योगी सरकार 23 महीने में भी पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे बनाकर दिखाए।

इस कार्यक्रम के दौरान अखिलेश यादव के नेतृतव पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने भरोसा जताया। इस प्रोग्राम में प्रोफेसर रामगोपाल यादव भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि मैंने मुंबई से अखिलेश यादव को पत्र लिखकर पार्टी का भविष्य बताते हुए लिखा था कि जहां अखिलेश यादव हैं वहीं पार्टी है। दरअसल पिछले करीब साल भर से समाजवादी पार्टी दो खेमों में बंटी हुई है। एक तरफ पार्टी को जन्म देने वाले मुलायम सिंह यादव और उनके भाई शिवपाल सिंह यादव हैं, वहीं दूसरी तरफ अखिलेश यादव हैं, जिनका साथ रामगोपाल यादव दे रहे हैं। दोनों खेमों में लगातार वर्चस्व की लड़ाई चल रही है। यूपी विधानसभा चुनाव से पहले ये जंग चुनाव आयोग तक पहुंच गई थी, जहां ऐन मौके पर मुलायम ने हाथ पीछे खींच लिया था। इसके बाद अखिलेश पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए थे और मुलायम सिंह को संरक्षक बना दिया गया।

SI News Today

Leave a Reply