Sunday, April 14, 2024
featuredउत्तर प्रदेश

एडीए उपाध्यक्ष ने विकास कार्य में गड़बड़ी रोकने के लिए ठेकेदारों को हर दिन रोड के साथ सेल्फी भेजनी होगी

SI News Today

एडीए में विकास कार्यों में गड़बड़ी को रोकने के लिए एक और कदम उठाया गया है। अब ठेकेदारों को हर दिन रोड के साथ सेल्फी भेजनी होगी। रोड कितनी बनी और उसे किस तरह बनाया गया। यह जानकारी भी देनी होगी। इसके लिए एडीए एप विकसित करा रहा है। वहीं रोड के सत्यापन के लिए पहली बार अलग-अलग कमेटियां बनी हैं।

एडीए द्वारा शहर में हर साल करोड़ों रुपये के विकास कार्य कराए जाते हैं। यह कार्य पथकर निधि से भी होते हैं। ठेकेदार अक्सर सड़क की गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखते। कई बार निर्धारित समय तक रोड नहीं बनती। अभी तक ऐसे मामलों में शिकायत के बाद जांच होती थी, लेकिन एडीए उपाध्यक्ष ने नियमों में बदलाव किया है। उन्होंने एप विकसित करने को कहा है, तब तक ठेकेदारों को हर दिन निर्माणाधीन रोड की सेल्फी खींच कर भेजनी होगी। इसे अधिशासी अभियंता को भेजना होगा।

अधिशासी अभियंता द्वारा इसे आला अधिकारियों को भेजेंगे। अगर रोड को लेकर कोई शिकायत मिली तो जांच कराई जाएगी। प्रत्येक रोड का भौतिक सत्यापन कराया जाएगा। इसके लिए चार कमेटियां गठित की गई हैं। एक करोड़ से अधिक के कार्य की जांच उपाध्यक्ष और सचिव की संयुक्त कमेटी करेगी।

50 लाख से एक करोड़ तक के कार्य ओएसडी, 25 से 50 लाख तक के कार्य अधीक्षण अभियंता और 25 लाख से कम के कार्य की जांच जूनियर इंजीनियरों की टीम करेगी। प्रत्येक कमेटी दो सप्ताह के भीतर रिपोर्ट देगी। यहां उल्लेखनीय है कि एडीए के विकास कार्यो को लेकर अक्सर आरोप लगते रहे हैं। कई बार अधूरे कार्य पर ही पैसा दे दिया जाता है।

SI News Today

Leave a Reply