Monday, June 17, 2024
featuredउत्तर प्रदेश

गाय के दूध और मिठाई से खुलेगा रोजा, UP में RSS का इफ़्तार प्लान

SI News Today

आगामी रमजान में रोजा रखने वालों के लिए RSS की मुस्लिम शाखा उत्तर प्रदेश में इफ़्तार पार्टी आयोजित करेगी। लेकिन इस इफ़्तार पार्टी में अन्य इफ़्तार पार्टियों की तरह कबाब, पकौड़े, और मटन, चिकन कोरमा नहीं होगा, बल्कि इस पार्टी में रोजेदार एक ग्लास दूध पीकर रोजा तोड़ेंगे। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक आरएसएस की मुस्लिम शाखा मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय सह संयोजक महिराज ध्वज सिंह ने कहा कि ये पहली बार हो रहा है कि रोजा रखने वाले मुस्लिम भाई दूध पीकर अपना रोजा तोड़ेंगे। इस अनोखी इफ़्तार पार्टी का मकसद गाय को बचाने संदेश देने के साथ ही गोमांस के सेवन से होने वाली बीमारियों के बारे में लोगों को जागृत करना है।

बता दें कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का गठन 2002 में RSS के तत्कालीन प्रमुख केएस सुदर्शन के प्रयासों के बाद किया गया था, इसका मकसद मुस्लिम समाज के लोगों तक संघ की पहुंच बनाना है। बता दें कि इस बार 26 या 27 मई से रोजे की शुरुआत होने वाली है। महिराज ध्वज सिंह ने कहा कि इफ़्तार में दूध और दूध से बने सामान पर जोर दिया जाएगा। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मुताबिक मुस्लिम विद्वान भी मानते हैं कि गाय का दूध सेहत के लिए फायदेमंद है और दूध से बना घी दवा के जैसा काम करता है। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का कहना है कि रमजान के दौरान गाय को बचाने का संदेश देने के लिए विशेष नमाज भी पढ़ा जाएगा।

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का कहना है कि इस दौरान देश की एकता और अखंडता के लिए भी नमाज पढ़ा जाएगा। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के इस पहल का पसमांदा मुस्लिम समाज के अध्यक्ष वसीम रैनी ने स्वागत किया है। लखनऊ स्थित पसमांदा मुस्लिम समाज के अध्यक्ष का कहना है कि अगर रोजा तोड़ने के लिए दूध से बनी मिठाइयां जैसे की पेड़ा वगैरह का इंतज़ाम किया जाता है तो हमें इससे कोई आपत्ति नहीं है। उनका मानना है कि आरएसएस की पहल हिन्दू और मुस्लिम समाज के बीच एकता बढ़ाएगी।

SI News Today

Leave a Reply