Monday, April 15, 2024
featuredउत्तर प्रदेशलखनऊ

शाहजहांपुर: 11वीं की छात्रा ने लगाई फांसी

SI News Today

शाहजहांपुर. यूपी के शाहजहांपुर में 11वीं क्लास की स्टूडेंट ने रविवार को फांसी लगा ली। 8 साल के भाई ने सुबह बहन को फांसी पर लटका देखा और घर के बाहर दूध लेने गई मां को सूचना दी। वो बोला- दीदी तो पंखे में लटकी है। घर पहुंचकर मां ने आसपास के लोगों बुलाया। जानकारी पर पहुंची पुलिस ने शव को फंद से उतारकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।

ये है पूरा मामला…
– सदर थाना क्षेत्र के रहने वाले अशोक प्राईवेट जॉब करते हैं। उनके साथ पत्नी अनीता देवी और 4 बच्चे रहते हैं। उनकी बेटी मालती (17), बेटा वैभव (8), अंजली (6), बीरा (4) सभी पढ़ाई करते हैं।
– मालती आर्य कन्या इंटर कॉलेज मे 11वीं से पास होकर 12वीं क्लास में पहुंची थी। लेकिन रविवार को अचानक उसने कमरे के अंदर दुपट्टे से लटककर फांसी लगा ली।

पिता ने ये कहा
– छात्रा के पिता के मुताबिक, वो किसी काम से बाहर गए हुए थे। पत्नी अनीता दूध लेने गई थी। बेटा वैभव खेलने के बाद घर के अंदर पहुंचा तो उसने देखा कि कमरे के अंदर दीदी फांसी के फंदे पर लटकी हुई है। ये देखते ही वो चि‍ल्लाने लगा और घर की बाहर की तरफ भागा।

– वो दौड़ता हुआ मां के पास गया और बोला- मम्मी, दीदी तो पंखे में लटकी है। जब तक अनीता घर पहुंचती, तब तक बेटी मर चुकी थी। शोर सुनकर आसपास के लोग भी मौके पर इकट्ठा हो गए।

– सूचना के बाद मौके पर पहुंचे सीओ सिटी अवनीश्वर चंद्र श्रीवास्तव और इंस्पेक्टर सदर बाजार केके तिवारी ने पूछताछ के बाद बॉडी को फंदे से उतारकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।

सुसाइड का कारण नहीं पता
– पिता का कहना है कि मालती सिर्फ पढ़ाई करती रहती थी। वो मोबाइल भी नहीं रखती थी। हम लोग उसको किसी तरह की परशानी नहीं होने देते थे। लेकिन उसने ऐसा कदम क्यों उठाया, ये समझ में नहीं आ रहा है।

– वहीं आसपास के रहने वाले लोग भी लड़की को सीधा बता रहे हैं। सुसाइड क्यों कि‍या ये समझ नहीं आ रहा है। उसके घर वाले भी उसकी काफी देखभाल करते थे। मालती अपने मां बाप की लाडली बेटी थी।
पुलिस ने ये कहा

– वहीं सीओ सिटी अवनीश्वर चंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि स्टूडेंट ने फांसी लगाकर सुसाइड कि‍या है। सुसाइड का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। मौके पर कोई सुसाइड नोट भी बरामद नहीं हुआ है। मामले की जांच की जा रही है।

SI News Today

Leave a Reply