Thursday, April 11, 2024
featuredउत्तर प्रदेश

संसद पर‍िसर में अकेले पड़े लालकृष्‍ण आडवाणी, करना पड़ा इन्तजार

SI News Today

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने मंगलवार (18 जुलाई) को उप-राष्‍ट्रपति पद के लिए नामांकन दाखिल किया। उनके साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उनके प्रमुख मंत्री, लालकृष्‍ण आडवाणी समेत कई वरिष्‍ठ भाजपा नेता मौजूद थे। नामांकन के बाद सभी साथ में बाहर निकले। वेंकैया नायडू मीडिया से मिलने निकल गए। मगर आडवाणी संसद के गेट नंबर 4 पर अकेले खड़े दिखे। यहां पर सांसद व नेता अक्‍सर अपनी गाड़ी का इंतजार करते हैं। कुछ देर तक गाड़ी नहीं आई तो मीडियाकर्मियों ने उन्‍हें गेट नंबर 4 के सामने बनी जगह पर आने को कहा, जहां पत्रकारों का जमावड़ा लगता है। आडवाणी आए और एक कैमरामैन के साथ बेंच पर बैठ गए। उनके साथ कोई सुरक्षाकर्मी भी नहीं था। इतने वरिष्‍ठ नेता को बिना किसी सुरक्षा के अपने बीच पाकर खबरनवीस हैरान हुए। कुछ लोगों ने आडवाणी से बात करने की कोशिश की, मगर वह कुछ नहीं बोले। मौके का फायदा उठाते हुए कुछ ने फोन निकालकर सेल्‍फी लेनी शुरू कर दी। आडवाणी तुरंत उठे और गेट नंबर 1 की तरफ चल दिए। कुछ देर इंतजार करने के बाद उनका काफिला वहां पहुंचा, जिसके बाद वह वहां से निकल गए।

संसद की रिपोर्टिंग करने वाले पत्रकारों ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि आडवाणी शायद पहली बार इस तरह संसद परिसर में अकेले घूमते दिखाई दिए। पत्रकार अशोक सिंहल के अनुसार, आडवाणी अपने काफिले के साथ गेट नंबर 6 से संसद भवन स्थित अपने कार्यालय जाते हैं। उनको अन्‍य गेटों से आते-जाते नहीं देखा गया है।

मनीष झा ने लिखा कि ”आडवाणी जी को कई रिपोर्टर और कैमरामैन घेरे हुए थे। तेज धूप थी और वो अपनी गाड़ी ढूंढ रहे थे। देरी होता देख मीडिया वालों ने उन्हें गेट नंबर 4 के सामने बने मीडिया वाली जगह पर आने का न्योता दिया। वो अंदर आकर बेंच पर बैठ गए। थोड़ी देर बाद वहां से उठे और पैदल ही गेट नंबर 1 की और चल पड़े। भीषण गर्मी में वो लगभग 100-150 मीटर चलकर गेट नंबर 1 पर आकर खड़े हो गए। आंखे अपनी गाड़ी के इंतजार में सामने देखती रहीं। आखिरकार उनके जाने की व्यवस्था हो गयी।

SI News Today

Leave a Reply