Wednesday, April 17, 2024
featuredउत्तर प्रदेश

सपा के गढ़ में लगी शिवपाल-मुलायम की होर्डिंग

SI News Today

इटावा: शिवपाल यादव के सपोर्टर्स ने एक बार फिर उनके सपा से अलग होने के संकेत दिए हैं। दरअसल, सपा का गढ़ माने जाने वाले इटावा में शिवपाल और मुलायम की जगह-जगह होर्डिंग लगाई गई है। इसमें कहीं भी अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी का नाम तक नहीं है। क्या लिखा है होर्डिंग में…?

– बता दें, होर्डिंग्स को यादव परिवार में कलह के बाद इटावा में बने संगठन “मुलायम के लोग” के वर्कर्स ने लगाया है। होर्डिंग में लिखा है- गूंजे धरती और पाताल, प्रदेश के नेता हैं शिवपाल।

– सफेद बैकग्राउंड पर बनी इस होर्डिंग में न तो अखिलेश यादव की फोटो है, न ही सपा का जिक्र है। इसमें समाजवादी पार्टी का निशान भी नहीं है।

अब हमारा और हमारे नेता का सपा से मतलब नहीं…
– सपा से इस्तीफा दे चुके इटावा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुनील यादव ने बताया, ”अब हमारा और हमारे नेता का सपा से कोई मतलब नहीं है। हम समय-समय पर इस तरह की मुहिम चलाते रहते हैं।”

– ”हमने इटावा के एसएसपी चौराहा, भरथना चौराहा, ओवरब्रिज, शास्त्री चौराहा जैसी जगहों पर होर्डिंग्स लगाई हैं। हम 15 अगस्त को इटावा में एक बड़ा प्रोग्राम करने जा रहे हैं, जिसमें मुलायम सिंह और शिवपाल यादव भी शामिल होंगे।”

शिवपाल के इशारे पर लगी होर्डिंग्स
– सूत्रों की मानें तो शिवपाल यादव समझ गए हैं कि वो अखिलेश यादव की गुड बुक में अब शामिल नहीं हो सकते हैं और लगातार पार्टी में उन्हें हाशिए पर लाया जा रहा है।

– इसीलिए शिवपाल के इशारे पर उनके सपोर्टर्स ने इटावा में इस तरह की होर्डिंग्स लगाकर ये संदेश देने की कोशिश की है कि अगर पार्टी शिवपाल को तरजीह नहीं देगी तो उनके सपोर्टर्स ”मुलायम के लोग” नाम की अलग पार्टी बनाकर अपने नेता के राजनीतिक वजूद को बचाने का काम करेंगे।

SI News Today

Leave a Reply