Friday, June 21, 2024
featuredउत्तर प्रदेशलखनऊहोम

लखनऊ पुलिस को 20 घंटे के अंदर बड़ी सफलता प्राप्त अगवा छात्र को ढूँढ निकला, मुठभेड़ में एक बदमाश घायल…

SI News Today

प्रदेश पुलिस ने लखनऊ से अगवा एक छात्र को नौ घंटे बाद ही रिहा कराने के साथ आज तड़के उसमें शामिल एक बदमाश अजय राय को मुठभेड़ के बाद अपनी गिरफ्त में ले लिया। लखनऊ पुलिस ने सिर्फ 20 घंटे के अंदर ही यह बड़ी सफलता प्राप्त की।

लखनऊ में कल ला मार्टिनियर कालेज के छात्र अर्णव अग्रवाल के अगवा होने की सूचना से सनसनी फैल गई। इस मामले को लखनऊ पुलिस ने बेहद गंभीरता से लिया। आइजी सुजीत कुमार पाण्डेय ने भी मोर्चा संभाला और सीतापुर जाकर अगवा छात्र को उसकी कार के चालक के साथ पकड़ा। छात्र को चालक ने अगवा करने के बाद अपने साथियों के साथ गन्ना के खेत में रखा था।

पुलिस ने छात्र को सकुशल उसके परिवार के लोगों को सौंपने के बास चालक को अपनी हिरासत में रखा। इसके बाद जब चालक ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने इस अपहरण में शामिल मुख्य आरोपी अजय राय के बारे में अहम जानकारी दी।

इस जानकारी के बाद पुलिस ने आज तड़के हजरतगंज क्षेत्र में भैंसा कुंड के पास मुठभेड़ के बाद अजय राय को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की लामाटीनियर के अर्णव को अगवा करने वाले दो वांछित बदमाशों से मुठभेड़ में एक अजय राय गोली लगने के बाद घायल हो गया। उसका साथी किसी तरह पुलिस के शिकंजे से भाग निकला। अजय राय बिहार के समस्तीपुर का निवासी है। उसका साथी सर्वेश यादव फरार हो गया है।

लखनऊ के नामी स्कूलों की लिस्ट में शुमार लामार्टिनियर स्कूल में 11वीं में पढऩे वाले छात्र अर्णव अग्रवाल कल अपने ड्राइवर संतोष के साथ स्कूल जाने के लिए निकला. लेकिन दोनों स्कूल नहीं पहुंचे। आज लखनऊ में भैंसाकुंड घाट के पास मुठभेड़ में एक बदमाश अजय राय घायल हो गया। पुलिस ने उसके पास से तमंचा और बाइक बरामद की है। घायल बदमाश लामार्टिनियर के छात्र अर्णव के अपहरण का आरोपी बताया जा रहा है। अजय राय के पैर में गोली लगी है। पुलिस उसे इलाज के लिए ट्रामा सेंटर ले कर गई है।इससे पहले पुलिस ने कल सीतापुर से अगवा छात्र उसके ड्राइवर को बरामद कर लिया। पुलिस ने ड्राइवर संतोष को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसके अन्य साथियों का पता चला। पुलिस को तड़के छात्र के अपहरण में शामिल बदमाश अजय राय के लखनऊ में लोकेशन मिली। पुलिस टीम ने घेराबंदी करके बदमाश को भैंसाकुंड के पास कथित मुठभेड़ शुरू की। बदमाश ने पुलिस पर गोली चलाना शुरू किया तो जबाबी कार्रवाई में पुलिस की गोली बदमाश के पैर में लग गई और वह घायल होकर गिर गया। पुलिस ने बदमाश को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। यहां उसके इलाज के साथ ही आगे की कार्रवाई की जा रही थी।

सोशल मीडिया पर मुठभेड़ फर्जी करार

पुलिस की ये मुठभेड़ किसी के गले नहीं उतर रही है। इस मुठभेड़ को लेकर सोशल मीडिया पर तरह तरह की चर्चा चल रही है। लोगों का कहना है पुलिस ने बेशक मेहनत से छात्र को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया लेकिन पुलिस ने अपहरणकर्ताओं को भी कल ही पकड़ लिया था इनमें से दो की गिरफ्तारी दिखाई गई थी। एक बदमाश को पुलिस कस्डडी में ले रखा था जिसे आज मुठभेड़ में गिरफ्तारी दिखाई जा रही है। लोग सवाल उठा रहे हैं कि क्या बदमाश अजय राय कल एक साथी की गिरफ्तारी के बाद से ही पुलिस का इंतजार कर रहा था। क्या पुलिस की धरपकड़ के बाद अजय राय लखनऊ में ही छिपा रहा, न वो भागा और न पुलिस को सूचना मिली। बदमाश लखनऊ में छिपा पुलिस का इंतजार करता रहा या वाहवाही लूटने के लिए पुलिस ने मुठभेड़ बताई।

SI News Today

Leave a Reply