Thursday, June 20, 2024
featuredलखनऊ

यूपी: 17 राज्यों में चल रहा पेट्रोल चोरी का खेल, STF देगी सबूत

SI News Today

सिर्फ यूपी ही नहीं, देश भर के 17 राज्यों में तेल का खेल चल रहा है। तेल चोरी के पुख्ता सुबूत मिलने के बाद एसटीएफ ने इन राज्यों के 58 पेट्रोल पंपों की पहचान कर एक रिपोर्ट तैयार की है। शासन के जरिए यह रिपोर्ट उन सभी राज्यों को भेजी जा रही है, जहां चिप से तेल चोरी होती है।
लखनऊ के पारा से पकड़े गए टेक्नीशियन अजय चौरसिया, मुंबई से पकड़े गए विवेक हरिश्चंद्र शेट्टी और अविनाश मनोहर नाईक ने कई राज्यों में न सिर्फ चिप, बल्कि चिप डवलप करने वाला सॉफ्टवेयर भी सप्लाई किया था।

चौरसिया ने बताया था कि वह विवेक से चिप लेता था और इसे अपने ग्राहकों को सप्लाई करता था।

एसटीएफ ने जिन राज्यों के बारे में जानकारी जुटाई है, वहां के कम से कम दो से पांच पेट्रोल पंपों की लिस्ट भी तैयार की है। सूत्रों का दावा है कि यूपी की ही तर्ज पर इन राज्यों में भी बड़े पैमाने पर तेल चोरी का धंधा चल रहा है।
इन राज्यों में हो रही तेल चोरी
एसटीएफ के एसएसपी अमित पाठक का दावा है कि यूपी के अलावा उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, बिहार, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, झारखंड, असम, जम्मू कश्मीर, महाराष्ट्र और गुजरात, ओडिशा और नागालैंड में पेट्रोल पंपों पर तेल चोरी के लिए चिप का इस्तेमाल किया जा रहा है।

आखिर कहां गईं 900 चिप
एसटीएफ के अब तक के खुलासे में एक हजार से अधिक चिप सप्लाई करने की जानकारी मिल चुकी है। जबकि, अभी चिप सप्लाई करने वाले कई कैरियर एसटीएफ की पकड़ से दूर हैं।

वहीं, शासन स्तर पर हुई बैठक के बाद जो जांच टीम बनाई गई है, वह अब तक 100 चिप के ही बारे में जानकारी जुटा सकी है। ऐसे में सवाल उठता है कि जब एक हजार चिप की सप्लाई की गई थी तो बाकी 900 चिप कहां गईं?
चिप लगाने वालों को ही जांच का जिम्मा
सूत्रों की मानें तो जांच टीम में जो टेक्नीशियन रखे गए हैं, वे वही हैं जो पूर्व में उन क्षेत्रों में मेंटेनेंस का काम देखते रहे हैं। एसटीएफ की शुरुआती कार्रवाई के बाद इनकी मदद से चिप हटाई गई थी।

ऐसे में अपनी खामी की ही जांच टेक्नीशियन कर रहे हैं। इनको यह तय करना है कि मशीन में चिप लगी थी या नहीं। यानी जिन टेक्नीशियन ने तेल चोरी के लए चिप लगाने का काम किया, उनको ही जांच की जिम्मेदारी भी सौंप दी गई।

चौरसिया को रिमांड पर लेकर और राज उगलवाएगी एसटीएफ
सूत्रों का कहना है कि लखनऊ में पकड़े गए अजय चौरसिया से अभी काफी राज उगलवाए जाने हैं। जल्द ही चौरसिया को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेकर एसटीएफ पूछताछ करेगी।

एसटीएफ के एसएसपी पाठक ने बताया कि किन्हीं वजहों से चौरसिया की रिमांड अभी तक नहीं ली जा सकी है, लेकिन जल्द ही उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी।

चौरसिया ने गिरफ्तारी के समय कई बातों को छुपाया था, लेकिन जब मुंबई से विवेक व अविनाश एसटीएफ के हत्थे चढ़े तो पता चला कि चौरसिया को चिप डवलप करने के लिए विवेक ने सॉफ्टवेयर भी दे रखा था।

SI News Today

Leave a Reply