Sunday, April 21, 2024
featuredलखनऊ

योगी आदित्यनाथ: अगर कोई दंगा नहीं करेगा तो बहुसंख्यक समाज भी दंगा नहीं करेगा

SI News Today

लखनऊ.योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि अगर कोई और दंगा न करे तो बहुसंख्यक (मेजॉरिटी) भी दंगा नहीं करेंगे। यह सरकार सभी की है। लेकिन अगर कोई दंगा करने की कोशिश करेगा तो उससे सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने यह बात एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कही। सभी को सुरक्षा की गारंटी…

– इंटरव्यू में योगी से पूछा गया कि अल्पसंख्यक समाज को डर है कि राज्य में कब दंगे हो जाएं, भरोसा नहीं। इस पर योगी ने कहा, “हम लोगों ने विश्वास का माहौल बनाया है। अगर कोई छेड़ेगा नहीं तो कहीं भी कोई भेदभाव नहीं होगा। अगर अगला पक्ष दंगा नहीं करेगा तो बहुसंख्यक (मेजॉरिटी) समाज भी दंगा नहीं करेगा। ये सरकार सबकी है। मैं सुरक्षा की गारंटी प्रदेश के हर नागरिक को दे सकता हूं, लेकिन हां, दंगा करने का प्रयास करने पर प्रशासन सख्त‍ी से निपटेगा। कानून का वो सम्मान करें, कानून उनका सम्मान करेगा।”

19 मार्च के पहले जो योगी था वही आज भी
– योगी ने आगे कहा, “19 मार्च के पहले जो योगी था वहीं मैं आज भी हूं। मुझमें बदलाव कुछ भी नहीं हुआ।”

– सीएम बनने के बाद अपनी आजादी के बारे में उन्होंने कहा, “पहले ज्यादा स्वतंत्रता थी, अपने अनुसार कार्यक्रम तय किया जा सकता था, अब वैसा नहीं है।”

15 साल से नहीं लगी थी बूचड़खानों पर रोक
– योगी ने कहा, “पिछले 15 वर्षों में किसी ने अवैध बूचड़खाने पर क्या रोक लगाई थी? ये एक योगी ही कर सकता है। अब भू-माफियाओं के खिलाफ अभियान से भूचाल आ जाएगा।”

ताजमहल अच्छा मॉडल, अच्छी संस्कृति नहीं
– योगी ने आगे कहा, “ताजमहल एक अच्छी इमारत हो सकती है, लेकिन आस्था का प्रतीक नहीं हो सकता। श्रीमद्भागवत गीता हमारी आस्था का प्रतीक है। ताजमहल अच्छा मॉडल हो सकता है। उसकी (ताजमहल) कलाकृति अच्छी हो सकती है, लेकिन वो एक अच्छी संस्कृति नहीं हो सकती। ताजमहल पर्यटन का केंद्र है, वो आस्था का केंद्र नहीं।”

राम मंदिर का हल सहमति से निकले
– योगी ने अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे पर कहा, “अयोध्या में पत्थर 1990 से आ रहे हैं। इस पर आपत्त‍ि नहीं होनी चाहिए। जब बीजेपी की सरकार नहीं थी, तब भी पत्थर आए थे।”

– “अयोध्या मैं स्वयं गया था और दोनों पक्ष न्यायालय के बाहर बैठकर समस्या का समाधान करें। दुनिया के सामने सांप्रदायिक सौहार्द की दृष्टि से ये सबसे जरूरी बात है। हम लोगों को आपसी सहमति से इसका समाधान निकालना चाहिए।”

‘लालू जी को सपने ज्यादा आ रहे हैं’
– लालू के अखिलेश और मायावती के साथ आने के बयान पर योगी ने कहा, “लालू जी को सपने ज्यादा आ रहे हैं। इस प्रकार का सपना वो देखें। यूपी में महागठबंधन बनाकर देख चुके हैं। कांग्रेस अपने न्यूनतम स्तर पर आ चुकी है। अगली बार महागठबंधन बनेगा तो कांग्रेस के लिए झाड़ू लगना तय है।”
हमारे मंत्री रात 12 बजे तक काम कर रहे

– योगी ने आगे कहा, “हमारे मंत्री सुबह 8 बजे से रात 12 बजे तक काम कर रहे हैं। राज्य के अंदर बदलाव लाना है तो मेहनत करनी पड़ेगी। ये एक टीम स्पिरिट है।”

– “यूपी में बदलाव हुआ है। 111 दिन में प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ। सहारनपुर में जातीय संघर्ष को भड़काया गया था। मायावती के जाने के बाद संघर्ष ज्यादा बढ़ गया।”

– योगी ने अपने मंत्री ओमप्रकाश राजभर के धरने पर बैठने के सवाल पर कहा, “उनके मामले बहुत छोटे-छोटे थे। मैंने उनको बताया कि जब कार्यवाही हो गई है तो आप क्यों परेशान हैं। फिर वो मान गए।”

SI News Today

Leave a Reply