Friday, April 19, 2024
featuredलखनऊ

रायबरेली नरसंहार से गूंजेगी कल विधानसभा, मायावती के किया बड़ा ऐलान

SI News Today

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार कल से शुरू हो रहे बजट सत्र में अपना बजट पेश करेगी। उनकी राह में हर प्रकार का रोड़ा अटकाने को अन्य विपक्षी दलों से अधिक तैयारी बहुजन समाज पार्टी ने कर रखी है।

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने अपनी पार्टी के विधायक तथा विधान परिषद सदस्यों को रायबरेली के ऊंचाहार का मामला काफी जोर से रखने को कहा है। माना जा रहा है पार्टी सुप्रीमो के निर्देश पर बहुजन समाज पार्टी के नेताओं के कथन से विधानसभा रायबरेली नरसंहार से गूंजेगी।

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने आज कहा कि रायबरेली में ब्राहृमण समाज के पांच युवा की सामूहिक नृशंस हत्या उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी के जंगलराज की तरफ बढ़ते कदम हैं। उन्होंने ऐलान किया है कि विधानसभा के बजट सत्र में पार्टी जोर-शोर से मामला उठाएगी।

मायावती के मामले को गंभीरता से लेने पर राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल पीडि़त परिवार मिलने जाएगा और उन्हें सांत्वना देने के साथ ही उनको न्याय दिलान का भरपूर प्रयास करेगा। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि विधानसभा के बजट सत्र में अपराध नियंत्रण और कानून-व्यवस्था की बदतर स्थिति के साथ ही रायरबेली का मामला भी प्रभावी ढंग से उठाया जाएगा ताकि पीडि़त परिवार को न्याय दिलाने के लिए राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार को बाध्य किया जा सके।

मायावती ने कहा कि इस घटना को खुद भारतीय जनता पार्टी के मंत्री भी नरसंहार मान रहे हैं लेकिन योगी सरकार इसमें भी राजनीति करती हुई नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि खासकर ब्राहृमण समाज के लोग काफी ज्यादा आक्रोशित नजर आ रहे हैं और पीडि़तों को न्याय दिलाने के लिए सघन आंदोलन चला रहे हैं।

मायावती ने कहा कि इसके अलावा उत्तर प्रदेश में पिछले कई दिनों से बाढ़ गंभीर रूप धारण कर चुकी है, जिससे भारी तादाद में परिवार प्रभावित हैं।

इतना होने के बाद भी भाजपा के मंत्री तथा नेता केवल हवा हवाई बातें ही कर रहे हैं। बाढ़ से पीडि़त लोगों को सहायता की सख्त जरूरत है।

मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार छोटी-छोटी परियोजनाओं आदि का भी उद्घाटन करके सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का प्रयास कर रही हैं लेकिन बाढ़ के लिए दोनों सरकार उदासीन हैं।

SI News Today

Leave a Reply