Saturday, February 24, 2024
featuredलखनऊ

हॉस्टल में रैगिंग ,लामार्ट के एक और छात्र को रैगिंग के बाद बेरहमी से पीटा, नाख़ून से गर्दन

SI News Today

लखनऊ के गौतमपल्ली थाना थाना क्षेत्र स्थित लामर्ट्स बॉयज कॉलेज के छात्रावास में रैगिंग का सनसनीखेज मामला सामने आया है।जहाँ कक्षा आठ के एक पीड़ित छात्र ने आरोप लगाया है कि उसके सीनियर्स ने उसे बहुत मारा। इतना ही नहीं छात्र की उंगली तक तोड़ दी। यही नहीं कॉलेज प्रशासन ने मामले को गंभीरता से भी नहीं लिया और नही इसकी सूचना पीड़ित छात्र के परिजनों तक को नहीं दी। आरोप है कि छात्रावास में सीनियर्स का आतंक इस कदर है कि वह रात में जूनियर्स को गेट पर निगरानी के लिए खड़ा कर देते हैं और खुद मोबाईल में अश्लील, गंदे वीडियो देखते हैं। पीड़ित छात्र के घरवालों ने बताया कि इसकी शिकायत जब उन्होंने कॉलेज के प्रिंसिपल से की तो उन्होंने भी अभद्रतापूर्वक बात की और बच्चे को कॉलेज से लेजाने तक को परिजनों को कह दिया गया पीड़ित परिवार ने पुलिस को मामले की लिखित शिकायत करते हुए मामला दर्ज़ कर कार्यवाही की मांग की है।लखनऊ का हाई प्रोफ़ाइल लमार्ट्स ब्वायज कॉलेज जहाँ के हॉस्टल में सीनियर स्टूडेंट अपने जूनियर स्टूडेंट्स की रैगिंग लेते है रैगिंग के साथ छात्रावास में सीनियर्स का आतंक इस कदर है कि वह रात में जूनियर्स को गेट पर निगरानी के लिए खड़ा कर देते हैं और खुद मोबाईल में अश्लील, गंदे वीडियो देखते हैं। बात न मानने वाले या विरोध करने वाले छात्रों की पिटाई करते सीनियर छात्र जूनियर छात्रों का मानसिक रूप से शोषण करते हैं।कॉलेज का एक छात्र यश प्रताप सिंह लमार्ट्स बॉयज हॉस्टल में रहकर कक्षा 8 में पढ़ता है। यश का आरोप है कि हॉस्टल में सीनियर (हाईस्कूल और 9th) छात्र जूनियर छात्रों का शारीरिक और मानसिक रूप से शोषण करते हैं। छात्र का आरोप यह भी है कि सीनियर्स छात्र जूनियर्स की पॉकेट मनी और सामान भी जबरन छीन लेते हैं। इतना ही नहीं अपना सामान झांसे में लेकर सीनियर्स जूनियर्स को देते हैं। फिर उसे छिपकर रख लेते हैं और सामान के बदले मोटी रकम वसूल करते हैं। इसके चक्कर में कई जूनियर्स काफी परेशान हैं। आरोप है कि छात्र के परिजनों ने जब इसकी शिकायत प्रिंसिपल से की तो उन्होंने अभद्रता से बात की और छात्र को टर्मिनेट कर दिया।पीड़ित छात्र यश की मां सविता सिंह की माने तो वह हर रविवार को अपने बेटे से मिलने जाती हैं। यहां सभी छात्रों के अभिभावक बच्चों से मिलने आते हैं। वह अपने बेटे को जब मिलने जाती थीं तो उनके बेटा यही कहता था कि मम्मी हॉस्टल का माहौल ठीक नहीं है। आरोप है कि यहां बंपर रैगिंग होती हैं, जूनियर्स को सीनियर छात्र रात में गेट पर वार्डेन की रखवाली करने के लिए खड़ा कर देते हैं और खुद अश्लील वीडियो देखते हैं। इस बार जब वह बेटे से मिलने गईं तो उसकी उंगली मुड़ी हुई थी। उन्होंने जैसे ही देखा और इसके बारे में पूछा तो वह रोने लगा। छात्र ने बताया कि एक सप्ताह पहले कुछ सीनियर्स ने उसके पैसे छीन लिए और बेरहमी से पीटा। पिटाई के दौरान सीनियर्स ने उसकी उंगली तोड़ दी। छात्र के परिजनों ने कॉलेज प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। आरोप है कि हॉस्टल में बंपर रैगिंग होती है लेकिन कॉलेज प्रशासन इससे अंजान बनकर बैठा है। बेटे की उंगली तोड़ की गई लेकिन कॉलेज की तरफ से कैजुअलिटी की कोई सूचना नहीं दी गई। पीड़ित परिवार ने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ शिकायत स्थानीय पुलिस को की है और मामले की कार्यवाही की मांग की है । परिजनों का कहना है कि ये केवल हमारे बेटे का मामला नहीं है। ऐसे कई छात्र पीड़ित हैं जो लाखों रुपये की फीस देने के बाद शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना झेल रहे हैं। लेकिन भविष्य और साल बर्बाद होने के चलते खामोश बैठे हैं। उन्होंने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ केस दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।वही इस ममले में पीड़ित परिवार की शिकायत पर गौतमपल्ली पुलिस ममला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है पुलिस का कहना है मामले की जांच एसओ गौतमपल्ली को दी गई है जांच के आधार पर जो भी आवश्यक कार्यवाही करने की बात पुलिस कह रही है।रैगिंग को लेकर भले ही कितनी भी शख्ती हो मगर रैगिंग का जिनं समय समय पर कही न कही से निकल ही आता है लखनऊ का हाई प्रोफ़ाइल माना जाने वाला लामर्ट्स बॉयज कॉलेज अब इसी रैगिंग को लेकर चर्चा में है अब देखना होगा मामले में क्या कार्यवाही होती है सब कुछ जानने के बाद कॉलेज प्रबंधन कैसे खामोश बना बैठा है कैसे वो इस रैगिंग के जिन्न्न को खुद ही बढ़ावा तो नहीं दे रहा है फ़िलहाल मामला अब पुलिस तक जा पंहुचा है और अब देखना होगा की योगी सरकार की हाईटेक पुलिस इस मामले में क्या कार्यवाही करती है

SI News Today

Leave a Reply