Saturday, May 25, 2024
featuredदुनिया

ग्वाटेमाला : बाल संरक्षण गृह में लगी आग, 14 से 17 साल की 19 लड़कियों की मौत

SI News Today

ग्वाटेमाला में एक बाल संरक्षण गृह में यौन एवं अन्य दुर्व्यवहार के आरोपी कर्मचारियों के खिलाफ देर रात को हुए विद्रोह के बाद आग लगने से कम से कम 19 किशोरियों की मौत हो गयी. संरक्षण गृह में क्षमता से अधिक को रखा गया था. आग लगने की घटना में मरने वाली सभी किशोरियों की उम्र 14 से 17 साल के बीच है.

सार्वजनिक मंत्रालय की महासचिव मायरा वेलिज बुधवार को ने बताया, ‘‘अभी तक 19 लड़कियों की मौत की पुष्टि हुई है.’’ वेलिज ने बताया, ‘‘इसमें से 17 लड़कियों के शव जल गये हैं, जबकि शेष दो लड़कियों की स्थिति के बारे में कुछ पता नहीं है. अभी तक दुर्घटनास्थल की पूरी पड़ताल नहीं हुई है.’’

अग्निशमन अधिकारियों के मुताबिक, आग लगने से अन्य 25 लड़कियां भी झुलस गयी हैं. उनमें से कुछ गंभीर रूप से जली हैं, जबकि कुछ सामान्य रूप से झुलसी हैं. सभी लड़कियों को ग्वाटेमाला शहर के अस्पताल ले जाया गया है. उन्होंने बताया कि यह आग सरकारी संरक्षण गृह के किशोरी खंड में लगी थी. वर्ष 2006 में निर्मित यह संरक्षण गृह राजधानी ग्वाटेमाला सिटी के पूर्व में 10 किमी दूर एक गांव सैन जोस पिनुला में स्थित है. माना जाता है कि उपद्रव के दौरान किशोरी खंड के कोने वाले हिस्से से आग लगी. यहां क्षमता से दोगुनी संख्या में, करीब 400 बच्चों, किशोरों को रखा गया है.

SI News Today

Leave a Reply